Computer Parts in Hindi- हर एक Parts की details information

Computer in Hindi
Spread the love

आज के समय मे Computer का use लगभग सभी जगह पर हो रहा है। but आप जानते होंगे कि कम्प्यूटर कोई अकेला Part या Device नही है, अनेक parts की combination से एक Computer बनती है। और आज हम जानंगे एक computer बनाने के लिए कितने parts की जरूरत परती है। चलिए फटाफट शुरू करते है-

computer parts in hindi

एक computer कितने parts के combination से बनती है उसको जाननेसे पहले Computer क्या है बह हम जान लेते है-

Computer क्या है ? (What is Computer in Hindi)

Computer एक ऐसा Electronic Device है जो User द्वारा दिए गए Input instruction को process करके सही Result प्रदान करता हैं। मतलब Computer एक Electronic Machine है जो User द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करते हैं और इसी के साथ डाटा को store, Retrieve और Process भी करता है।

Computer parts in Hindi (Computer के parts)

चलिए दोस्तो अब जान लेते है एक computer कितने parts के combination से बनती है। और एक बात इस note को पड़ने के समय आपको कोई तरह के दिक्कत ना आए इसलिए computer मे इस्तेमाल होने बाली जितनी भी parts है उन सभी parts को मैं 3 हिसो मे बांट दिया हूं, इसमे क्या होगा आपको अछि तरह समझमे आए जाएगा कौनसी parts कहाँ पर रहती है। चलिए उन तीन हिस्सों क्या क्या है देख लेते है-

  1. Cabinet की अंदर की Parts
  2. Cabinet की बाहर की Parts
  3. Common Peripheral Parts

A. Cabinet की अंदर की Parts

1. Computer Case (Cabinet)

Computer कि parts के बारे में हम जब भी बात करते हैं तो पहले आता है कंप्यूटर cabinet। क्योंकि कंप्यूटर की सभी महत्वपूर्ण parts इस cabinet मे ही रखा जाता है। cabinet का इस्तेमाल इसलिए किया जाता है कंप्यूटर की जितनी भी important parts होती है उसमें सेही से air flow हो पाए और उन सभी parts मे कोई dust जमा ना हो पाए।

computer motherboard के from factor की अनुसार cabinet के भी कही तरह की sizes होते है

List of computer case sizes (known as form factor):
  • Very small form factor: Supports Mini ITX motherboards
  • Small form factor: Supports micro ATX motherboards.
  • Standard form factor: Supports standard ATX motherboards.
  • Larger form factors: Supports ATX and XL-ATX motherboards.
computer parts in hindi

2. Motherboard

Cabinet के अंदर सबसे important component होता है motherboard । Because motherboard मे ही computer में use होने वाली सभी parts internally और externally जुरी रहती है। इसके बिना पूरे computer अचल है।

एक मदरबोर्ड कंप्यूटर के अंदर का मुख्य Circuit board होता है, जो कंप्यूटर के विभिन्न parts को एक साथ जोड़ता है। इसमें CPU, RAM और expansion card के लिए Socket हैं । motherboard हमारे cabinet की अंदर होते है।

आज के समय मे computer के motherboard कही अलग अलग आकार मे आता है और उन अलग अलग आकारो को from factor कहा जाता है। जो जो motherboard के size आज के समय मे market पर available है उसका वर्णन नीच मे दी गई है-

MotherboardDimensions
Pico-ITX3.9 inch x 2.9 inch | 100mm x 72mm
Nano-ITX4.7 inch x 4.7 inch | 120mm x 120mm
Mini-ITX6.7 inch x 6.7 inch | 170mm x 170mm
Micro-ATX9.6 inch x 9.6 inch | 244mm x 244mm
Standard-ATX12 inch x 9.6 inch | 305mm x 244mm
XL-ATXEVGA: 13.5 inch x 10.3 inch | 343mm x 262mm
Gigabyte: 13.58 inch x 10.31 inch | 345mm x 262mm
Micro-Star: 13.6 inch x 10.4 inch | 345mm x 264mm
computer parts in hindi

3. CPU (Central Processing Unit)

एक Processor, या CPU , एक Computer के अंदर एक सर्किट बोर्ड है जो कार्यक्रमों की ओर से निर्देशों को निष्पादित करता है। modern computer के प्रोसेसर एक सेकंड में लाखों निर्देशों को संसाधित कर सकते हैं। प्रोसेसर को कंप्यूटर पर मुख्य चिप माना जाता है।

CPU का Full From है Central Processing Unit, इसको Brain of the computer कहा जाता है। किउकी हमारे Brain जिस तरह कोई भी कार्य का समाधान करता है, ठीक उसी तरह CPU भी Computer के सभी कार्यका समाधान करता है। CPU का काम होता है User द्वारा दिए गए Instructions को, running hardware और software के through receive करना और उस receive किया Instructions को Process करके सही परिणाम देना। CPU का बहुत सारे alternative नाम है। CPU को processorcentral processor, और microprocessor भी कहा जाता है।

Processor खरीद ने से पहले आपको तीन चीजों का ध्यान अवश्य देना है वह है core, threads और processor की speed। ये तीनो चीज़ जितना ज्यादा होगा प्रोसेसर मे, processor उतनी ही fast work करेगा।

computer parts in hindi

4. RAM (Random Access Memory)

RAM का Full From होता है Random Access Memory। यह एक hardware device है, जो computer की मदरबोर्ड पर रहते है। RAM का काम होता है user द्वारा दिए गए tasks को CPU के पास भेजना। इसलिए RAM को CPU की primary memory या personal assistant कहा जाता है।

RAM एक Volatile Memory है मतलब Computer Off हो जाने के बाद RAM मे जो डेटा रहता है बह सव erase हो जाता है। यह Computer की Read & Write मेमोरी भी है, जिसका अर्थ यही है कोई भी information को इस पर लिखा भी जा सकता है और साथ ही इससे पढ़ी हुई instruction को पढ़ा भी जा सकता है। इसी कारण के लिए RAM को Random Access Memory कहा जाता है।

computer parts in hindi

आपको अगर RAM के बारे में details में जानना है तो इस Notes को follow करो- RAM क्या है(WHAT IS RAM IN HINDI) और कैसे काम करते है ?

5. Graphic card (Video Card)

Graphics card भी computer मे use होने बाली एक hardware component है। जिसको motherboard पर attached करना पढ़ता है। Graphics Card का काम होता है video या image quality को improve करना।

हमारे processor के साथ एक integrated graphics दिया जाता है और बह integrated graphics हमरे processor के अंदर मे होती है। उस integrated graphics के मदद से हमरे normal काम चल जाता है but आपको अगर high regulation बाली कोई game या video देखनी है तो आपको अलग से Graphic card को लगाना पढ़ता हैं। और Graphics card motherboard पर PCI x16 slot मे attach करना परता है । Graphic card मे ही VGA, HDMI, और DVI port मजुत रहती है।

computer parts in hindi

6. HDD (Hard Disk Drive)

Hard disk एक electro-mechanical data storage device है। Electro-mechanical का मतलब होता है जिसमे electrical और mechanical दोनों concept present रहता हो। Hard disk का काम होता है computer data को स्थायी रूप से संग्रहित (permanently store) और पुनर्प्राप्त (retrieve) करना । Hard Disk एक non-volatile storage Device है।

Hard Disk computer cabinet के अंदर होती है और motherboard से directly connected रहती है। Hard disk मे operating system (OS), computer में installed software, user की personal डाटा और computer की important file store रहती है। computer system मे Hard disk को एक storage device की तरह इस्तेमाल किया जाता है। 

 इसमे mechanical parts रहने के लिए इसकी speed कम होती है। HDD डाटाको read और write करने की speed- 125MBps होती है।

7. SSD (Solid State Drive)

SSD का full from है Solid-State Drive। SSD computer पर इस्तेमाल होने बाली एक new generation की storage Device है। hard disk की तरह SSD भी non-volatile है। इसमे जो डाटा रहती है बह डाटा permanently based पर store रहती है। SSD मे कोई भी mechanical parts नहीं होता है। यह डाटा को Store करने के लिए NAND flash memory का इस्तेमाल करते है। NAND flash memory को use कीये जाने पर इसकी speed बोहोत ज्यादा होता है hard disk की मुकाबले। SSD की डाटाको read और write करने की speed- 520 MBps से लेकर 550MBps तक होती है। SSD का जो main advantage है उसकी Performance या speed।

आपको अगर Hard disk और SSD के बीच की अंतर को जानना है तो इस notes को follow करो Hard disk VS SSD in Hindi ?

8. PSU (Power Supply Unit)

कोई भी कंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण part होता है SMPS। इसको हम PSU भी कहते हैं। यह एक computer मे Electronic Device होता है। जो AC Power को DC Power में बदल देता है। SMPS या PSU का काम होता है पूरे motherboard पर सभी parts को सही मात्रा में Power supply करना। जिस components को जितना power की जरूरत है उतनी ही Power supply करता है SMPS या PSU। एक बात आपको बता दु, हमारे कंप्यूटर में इस्तेमाल होने बाली सभी Parts DC Power में चलती हैं, AC power मे नहीं। हमारे घर मे जो electricity आता है बह electricity AC होता है। और उस AC power को DC power मे convert करता है SMPS।

SMPS का full from होता है – Switch Mode Power Supply। PSU का full from होता है Power Supply Unit।

B. Cabinet की बाहर की Parts

1. Monitor

Monitor एक output device होता है। इसको visual display unit भी कहा जाता है। Monitor एक महत्वपूर्ण output device है। यह output को अपनी स्क्रीन पर Soft Copy के रूप में प्रदर्शित करता है। इसके बिना कंप्यूटर अधूरा है।

monitor कही प्रकार के होते है – LED,LCD,CRT। but आज के समय LED और LCD monitor को use मे लिया जाता है ।

2. Keyboard

हम जब किसी कागज मे कुछ लिखने की कोशिश करते है तब जरूरत पढ़ती है कलम कि। ठीक उसी तरह computer मे कुछ लिखने के लिए हम जो input device का इस्तेमाल करते हैं उसे keyboard कहते है। Keyboard computer के एक input device होता है। इसका उपयोग मुख्य रूप से computer मे command, texts, numeric value आदि को enter करने के लिए किया जाता है।

3. Mouse

Mouse भी computer के एक input device होता है। जो computer screen कि pointer या curser को control करता है। इस pointer कि मदद से हम File को खोलना, बंद करना ,एक जगह से दूसरी जगह ले जाना, और भी बहुत सारे काम को कर सकते हैं। mouse कि मदद से हम computer को Instruction देते हैं और उस Instruction के जरिए Computer काम करता है । Mouse को Pointing Device भी कहते है।

4. Speaker

Speaker एक hardware device होता है। Speaker कंप्यूटर सिस्टम के साथ उपयोग किए जाने वाले सबसे आम Output Device में से एक हैं। इसको computer से connect करके computer की sound को सुनने के लिए काम मे लिया जाता है।

5. UPS

Ups का full from होता है uninterruptible power supply। यह एक electronic device है, जिसके अंदर बहुत सारा electronic parts के साथ एक battery भी होती है। जब computer मे electric supply बंद हो जाता है तब कंप्यूटर उस ups कि बैटरी के मदद से on रेहती है।

आपको अगर Computer Hardware मे Extra Ordinary बनना है तो आप नीच मे दी गई notes को follow करो

C. Common Peripheral Parts

1. Printer

Printer एक मुख्य हार्डवेयर डिवाइस होता है। यह output device होता है। Printer हमे text और image को color या black and white रंगो में print करके देता है। इसको हम hardcopy device भी बोलते हैं।

printer काही प्रकार के होते है – Laser Printers, Solid Ink Printers, LED Printers, Business Inkjet Printers, Home Inkjet Printer, Multifunction Printers, Dot Matrix Printers, 3D Printers

but आज के समय Laser Printers और Inkjet Printers को use मे लिया जाता है ।

2. Scanner

Scanner एक input device है, जो photographs जैसे Document और pages के texts को scan करता है। जब कोई document scan किया जाता है, तब उस document को digital format में बदल दिया जाता है। यह document का एक electronic version बनाता है, जिसे कंप्यूटर पर देखा और edit भी किया जा सकता है।

Parts of Computer in Hindi

Input DeviceOutput DeviceStorage DeviceProcessing Device
KeyboardMonitorHard DiskProcessor
MousePrinterSSD 
ScannerGraphic CardRAM 
Web CamSpeakerPen drive 

Disclaimer

उम्मीद करता हूँ, आप Computer Parts in Hindi (Computer Parts information in Hindi) को read करने के बाद आपका सभी confusion clear हो गेया है और इस note से बोहत कुछ शिखने को मिला है। परन्तु यदि आपको इस पोस्ट में किसी जानकारी का अभाव लगता है या आपके पास इससे सम्बंधित कोई सवाल है. तो कृपया नीचे comment कर हमें जरूर बताये. आपके सुझाव हमारे लिए बहुत मायने रखते है.

आपको अगर Networking मे Extra Ordinary बनना है तो आप नीच मे दी गई notes को follow करो-

  1. ROUTER क्या है और काम कैसे करता है- WHAT IS A ROUTER IN HINDI
  2. NETWORK DEVICES IN HINDI- ROUTER, MODEM, SWITCH, REPEATER
  3. NETWORK क्या है और कितने प्रकारके होते है – WHAT IS NETWORK IN HINDI
  4. TCP/IP MODEL क्या है – TCP/IP MODEL IN HINDI ?
  5. OSI MODEL क्या है – OSI MODEL IN HINDI?
  6. TOPOLOGY क्या है ( TOPOLOGY IN HINDI) और कितने प्रकार के होते है ?

Spread the love

5 thoughts on “Computer Parts in Hindi- हर एक Parts की details information”

  1. Pingback: COMPUTER की प्रकार ( Types of Computer in Hindi )

  2. Pingback: Computer क्या है-What is Computer in Hindi? जानिए Details मे

  3. Pingback: Keyboard क्या है -What is keyboard in Hindi? जानिए Details मे

  4. Pingback: COMPUTER की इतिहास (HISTORY OF COMPUTER IN HINDI) ?

  5. Pingback: COMPUTER की पीढ़ियाँ -Generation of computer In Hindi?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *