RAM क्या है और कैसे काम करते है ? What is RAM in Hindi

RAM in Hindi
Spread the love

RAM एक ऐसा hardware component है जिसका महत्व हम सबने जानते है । और यह भी जानते है मोबाइल हो इया कंप्यूटर पर RAM जितनि ज्यादा होगी, उस device की performance उतनी ही बेहतर होगी। इसलिए आज हम जानेंगे उसी RAM के बारे मे। चलिए एक नजर मे देख लेते है आप क्या क्या जानोगे इस एक notes से।

इस एक notes से आप जानोगे RAM क्या है (What is RAM in Hindi), RAM कैसे काम करते है, RAM के प्रकार , SRAM और DRAM क्या है ,Memory Controller क्या है, motherboard मे डेटा flow कैसे होता है, Memory Channel Architecture क्या है , PC के RAM और Phone के RAM में अंतर क्या है, इन ढेर सारे important topics के बारे मे। चलिए शुरू करते है-

RAM क्या है ? What is RAM in Hindi?

RAM का Full From होता है Random Access Memory। यह एक hardware device है, जो computer की मदरबोर्ड पर रहते है।और RAM को CPU की primary memory या personal assistant कहा जाता है। क्योंकि RAM का काम होता है user द्वारा दिए गए tasks को CPU के पास भेजना।

RAM एक Volatile Memory है मतलब Computer Off हो जाने के बाद RAM मे जो डेटा रहता है बह सव erase हो जाता है। यह Computer की Read & Write मेमोरी भी है, जिसका अर्थ यही है कोई भी information को इस पर लिखा भी जा सकता है और साथ ही इससे पढ़ी हुई instruction को पढ़ा भी जा सकता है। इसी कारण के लिए RAM को Random Access Memory कहा जाता है।

RAM कैसे काम करता है- How to work RAM in Hindi

अब तक आप जान चुके होंगे कि RAM क्या है? अब हम जानेंगे RAM कैसे काम करते है ? देखो Smart phone हो ईया Computer सबमे ही RAM का इस्तेमाल होता है और हम सब जानते है system मे RAM एक important component है। आखिर यह RAM क्या काम करता है जिसकी बजह से बह important component है। चलिए आज जान लेते है-

देखिए दोस्तों, RAM का काम यही होता है system मे user द्वारा दी गई सभी instruction या task को temporary based पर आपने पास store करके रखना और बाद मे उन सभी instruction processor को provide करना। और Processor जब उन सब instruction को process कर देता है तब Processor उन सब instruction की Output result को RAM मे send करता है । और बाद मे RAM उन सब output result को output करता है output device से। यही होता है mainly RAM का काम।

RAM in hindi

मतलब हम जब भी computer को कोई task देते है उस task पहले हमारे RAM मे ही store होता है और उसके बाद ही processor के पास भेज दिया जाता है process होने के लिए।

आपको एक Example के जरिए समझता हूँ – हम जब भी कोई Game को Run करते है उस game की कुछ important डेटा (जो game को start करने मे help करता है बह) load होता है हमारे ram मे। फिर RAM उस डेटा को process करने के लिए भेज देते है processor के पास । उसके बाद processor उस डेटा को execute या Process करता है , Process करने के बाद Processor उस output डेटा को ram मे send करता है, उसके बाद ही एक game run हो पता है। इसी तरह से हमारे दिए गए सबी input task process होता है ।

RAM के प्रकार -Types of RAM in Hindi

हमारे computer मे दो तरह की RAM इस्तेमाल होते है। एक DRAM और दूसरा SRAM। system मे इन दोनो RAM की महत्व सबसे ज्यादा होता है। पहले हम DRAM के बारे मे जानेंगे उसके बाद जानेंगे SRAM के बारे मे।

What is RAM in Hindi

1.DRAM :- Normally हमारे mobile या computer मे जो Physical RAM रहते है और हम सब RAM का मतलब जिस चीजको समझते है उसको RAM नहीं, DRAM कहा जाता है। DRAM का Full Form होता है Dynamic Random Access Memory इस DRAM का काम है user द्वारा दी गई सभी instruction या task को temporary based पर आपने पास store करके रखना और बाद मे उन सब instruction processor को provide करना।

इस RAM को Dynamic RAM इसलिए बोला जाता है। किउकी इस RAM मे जो डाटा रहता है बह Time to Time change होता रहता है। Dynamic शब्द का अर्थ ही होता है चलायमान। अर्थात हमेशा परिवर्तित होते रहना। इसलिए इस RAM को लगातार Refresh करना पडता हैं। computer की Physical RAM को ही DRAM कहा जाता है।

2. SRAM:– SRAM काम full form है Static Random Access Memory। यह भी एक तरह की RAM ही होता है। और इसका काम DRAM की तरह ही है, मतलब डाटा को temporary based पर आपने store करके रखना और processor को देना। but इस SRAM मे जो डाटा रहता है बह डाटा स्थिर रहता है, उस डाटा मे ज्यादा changes नहीं होता है। इसलिए इस RAM का नाम Static रखा गेआ। Static शब्द का अर्थ ही होता है स्थिर

इस SRAM उस डाटा को store करके रखता है जिस डाटाका जरूरत processor को बार बार परती है या user जो task processor को बार बार दे रहा है। और एक बात आपको बता दु Cache memory को ही SRAM के नाम से जाना जाता है।Cache Memory एक volatile memory होता है RAM की तरह। Computer Off हो जाने के बाद इसमे जो डेटा रहते है बो सव erase हो जाता है।

computer मे Cache memory बहुत कम amount मे होती है ram और hard disk के मुकाबले। लेकिन cache memory कि speed बहोत fast होति है RAM और hard disk के speed के तुलना में। इस मेमोरी processor के नजदीक में होति है मतलब processor के अंदर मे होती है। इसलिए इस मेमोरी को processor memory भी कहा जाता है।

आप अगर Cache Memory क्या है ? इसके बारे मे details मे जानना चाहते हो तो इस note follow कारें – CACHE MEMORY क्या है?(WHAT IS CACHE MEMORY IN HINDI) BEST EXPLANATION

Memory Controller क्या है ? What is Memory Controller in Hindi

Memory Controller के नाम से आपको क्या पता चल रहा है ? के यही ना, इस IC memory को control करता है। आपका सोच एकदम सही है, इस IC Primary memory को control करने का काम करता है। आपको और एक बात बता दु इस Memory controller कोई storage device नहीं है, यह एक IC है जो सिर्फ memory को Control और manage करता है।

अब कैसे control करता है चलिए देख लेते है, देखिए दोस्तों RAM के अलग अलग chips पर RAM सारा डाटा store रहता है। processor को अगर कोई डाटा की जरूरत परती है कोई task processing करने के समय। और बता दु processor direct RAM को उस डाटा की demand नहीं करती है , processor memory controller से उस डाटा की demand करता है । और उसके बाद memory controller पूरे RAM को track करता है और RAM को उस डाटा की exact location बताती है। फिर RAM उस location से डाटा को उठाके processor के पास भेज देता है memory controller के through। और इसी तरह डाटा write भी होती है RAM पर।

जैसे आप image मे देख रही हो, memory controller RAM और Processor के बीच मे रहता है और Primary memory को control करता है।

what is memory controller in Hindi

motherboard मे डेटा flow कैसे होता है ?

क्या आपको पता है हम जब भी कोई task computer को देते है उस task कैसे processor तक पहुँचती है और कैसे हमारे output device से बह output होता है? मतलब हम जब भी कोई task कंप्यूटर को देते हैं उस task motherboard पर मजुत कोन कौन chips से गुसरके processor तक पहुँचती है और processor जब उस task को processing कर देता है बह कैसे output device से output होता है ? चलिए आज जान लेते हैं पूरी कंप्युटर मे डेटा flow कैसे होता है ?

देखिए दोस्तों, आप जब भी कोई file या Folder पर double click करते हो। double click करने के बाद उस स्थान से एक command या instruction Generate होता है। उस instruction हमारे mouse से होते हुए जाता है South bridge पर, फिर जाता है North Bridge पर। North Bridge से बह instruction जाता हैं ram पर, RAM मे ही instruction पहले store होता है । उसके बाद उस instruction processor के पास जाता है process होने के लिए। process complete हो जाने के बाद, processor उस instruction की output result को RAM मे send करता है। उसके बाद ही बह output result हमारे Output device से output होता है।

Data Follow – Mouse double click>South Bridge>North Bridge>RAM>Processor Output-RAM>North Bridge>Monitor

Memory Channel Architecture क्या है – Memory Channel Architecture in Hindi

Processor और RAM के बीच मे डाटा आदान प्रदान की पथ या way को कहा जाता है Memory Channel Architecture । अगर Processor और RAM के बीच मे डाटा आदान प्रदान के लिए एक पथ या way है तो Single channel, दो पथ है तो Dual channel, इसी तरह अगर way है तो Triple और चार है तो Quad channel। और जितना ज्यादा way CPU और RAM के बीच होगा आपके system की performance उतना ही ज्यादा होगा।

  1. What is Single channel Memory :- Single channel का मतलब हमारे RAM और Processor के बीच एक ही पथ या channel present होता है और उसी channel से ही डेटा up & down होता है। एक ही पथ होने के लिए एक ही time मे RAM सिर्फ 64 bit डेटा ही processor के पास भेज पाता है।
what is Single Channel & Dual Channel Memory in Hindi

2. What is Dual Channel Memory:-Dual channel का मतलब हमारे RAM और Processor के बीच दो पथ या channel present होता है, और उस दोनो Channel से ही डेटा up & down करते है। dual channel आने के बाद आब एक ही time मे RAM 64+64=128 bit डेटा processor के पास भेज ता है। आज के समय मे सभी normal system Dual Channel Memory Architecture के साथ आता है।

और सभी advanced level system मे Triple और Quad channel Memory Architecture होता है।

आपके system मे Processor और RAM के बीच मे डाटा आदान प्रदान की कितने पथ या way है यह पता करने के लिए आपको CPU-Z नामक एक Software को download and install करना परेगा आपके system मे। और आप जसे ही उस software को open करोगे आपको जाना परेगा Memory section पर और वहाँ पर आपको देखाई देगी आपके system मे memory channel कितना है। ठीक इसी तरह-

RAM in Hindi

क्या PC के RAM और Phone के RAM में कोई अंतर होता है ? ( PC RAM vs Mobile RAM in Hindi )

आज आपको एक interesting चीज बताऊँगा, बह है PC के RAM और Phone के RAM मे अंतर क्या है? देखिए दोस्तों दोनों ही RAM है but इन दोनों RAM की nature कुछ अलग अलग है। चलिए आज इन दोनों RAM के बीच की अंतर को जान लेते है-

  1. Smart Phone की RAM होता है LPDDR। LPDDR का Full From होता है Low Power Dual Data Rate। इसका Full From से पता चल गेया होगा mobile मे जो RAM इस्तेमाल होता है बह Low Power मे चल जाता है । but PC की RAM होता है DDR। DDR का Full From होता है Dual Data Rate। PC मे जो RAM इस्तेमाल होता है बह चलने मे बहोत Power को जरूरत परती है।
  2. Smart Phone मे कोई application को Click करने की बाद ही तुरंत run हो जाता है Computer के तुलना मे। ऐसा किउ होता है क्या आप इस के बारे मे कभी सोचा है ? ऐसा इसलिए होता है दोस्तों, Computer मे जब कोई भी application install होता है उस app की सभी file secondary memory (HDD, SSD) मे Store होता है। उस application Run होने के समय थोरा time लगता है because उस application HDD से RAM मे Load होना होता है और तब Run होता है। और दूसरी तरफ Smart Phone का Process पूरा उलटा होता है, Smart Phone मे application की सभी file Direct RAM मे ही load होता है और उसी से Run होता है। इसलिए Smart Phone मे application run होने मे कम time लगता है Computer के तुलना मै।
  3. Smart Phone की RAM को आप Upgrade नहीं कर सकते। और दूसरी तरफ PC की RAM को आप आपने जरूरत के हिसाब से Upgrade कर सकते है।
  4. Computer RAM की Power बहोत जादा होता है Smart Phone की RAM की तुलना मे।
What is RAM in Hindi
Related Notes:-
  1. HARD DISK क्या है (HARD DISK IN HINDI) जानिए पूरी DETAILS मे
  2. SSD और HDD मे अंतर क्या है -SSD VS HDD In Hindi
  3. CHIPSET क्या है (WHAT IS CHIPSET IN HINDI) और SYSTEM मे इसकी IMPORTANCE को जानिए।
  4. BIOS क्या है (WHAT IS BIOS IN HINDI) और कैसे काम करते है ?
  5. माउस क्या है-WHAT IS MOUSE IN HINDI? जानिए पूरे जानकारी के साथ
  6. KEYBOARD क्या है -WHAT IS KEYBOARD IN HINDI? जानिए DETAILS मे
  7. COMPUTER PARTS IN HINDI- हर एक PARTS की DETAILS जानकारीs
  8. ROM क्या है (WHAT IS ROM IN HINDI) और कितने प्रकार होते है?
  9. CPU क्या है और कैसे काम करता है – WHAT IS CPU IN HINDI

Conclusion

उम्मीद करता हूँ, आप ये note read करने के बाद आपका सभी confusion clear हो गेया है और इस note से बोहत कुछ शिखने को मिला है।परन्तु यदि आपको इस पोस्ट में किसी जानकारी का अभाव लगता है या आपके पास इससे सम्बंधित कोई सवाल है. तो कृपया नीचे comment कर हमें जरूर बताये. आपके सुझाव हमारे लिए बहुत मायने रखते है.


Spread the love

12 thoughts on “RAM क्या है और कैसे काम करते है ? What is RAM in Hindi”

  1. Pingback: IP Address क्या है और कितने प्रकार के होते है ?

  2. Pingback: Protocol क्या है और कितने प्रकार के होते है Details मे जानिए

  3. Pingback: ROM क्या है और कितने प्रकार होते है? (What is ROM in Hindi)

  4. Pingback: Cache Memory क्या है?(What is Cache Memory in Hindi)Best Explanation

  5. Pingback: ROM क्या है (What is ROM in Hindi) और कितने प्रकार होते है?

  6. Pingback: COMPUTER की पीढ़ियाँ ( Computer Of Generation In Hindi)

  7. Pingback: Computer क्या है -What is Computer in Hindi? जानिए Details मे – IT Intelligance

  8. Pingback: Keyboard क्या है -What is keyboard in Hindi? जानिए Details मे

  9. Pingback: COMPUTER की पीढ़ियाँ -Generation of computer In Hindi?

  10. Pingback: COMPUTER की इतिहास (HISTORY OF COMPUTER IN HINDI) ?

  11. Pingback: Computer parts in Hindi- हर एक Parts की details जानकारी

  12. Pingback: Computer Memory क्या है और उनके प्रकार ? (Memory in Hindi)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *