Cache Memory क्या है – What is Cache Memory in Hindi ? Best Explanation

What-is-Cache-Memory in hindi
Spread the love

क्या आप Cache Memory क्या है और कैसे काम करते है ?(What is Cache Memory in Hindi) यह जानना चाहते हो तो आप सही notes पर आई हो। इस notes से आप cache memory के बारे मे एक एक चीज पूरा details मे जान पाओगे। इस note को आप एकबार पढ़ें guarantee देता हूं Cache memory से जुड़े हर एक चीज बिस्तर मे जान पाओगे।

चलिए notes से आप क्या क्या जानोगे एक नजर मे देख लेते है-Cache Memory क्या है, Bottle neck क्या होता है, System मे Cache Memory का महत्व, Cache Memory कैसे काम करते है, Cache Memory के प्रकार, Cache Hit & Cache Miss क्या है, Cache Mapping क्या है, Memory access time क्या है, आपके computer मे cache memory कितनी amount मे या size मे है आप कैसे पता करोगे ?

What is Cache Memory in hindi

Cache Memory क्या है -What is Cache Memory in Hindi

Cache Memory एक ऐसा memory है जिसका speed computer मे use होने बाली जितनी भी memory है उनकी speed से कही गुना अधिक है। यह एक very special high-speed memory है। इस मेमोरी को हम देख नहीं सकते क्योंकि इस memory processor के अंदर मे होती है। processor के अंदर मे होने के लिए इस मेमोरी को processor memory भी कहा जाता है। इस cache memory का काम होता है जो डाटा प्रोसेसर को बार-बार जरूरत पड़ती है काम करने के समय, उस डाटा को Store करके रखना और जरूरत पढ़ने पर उस डाटाको processor को देना।

cache memory in hindi

इस cache memory को SRAM भी कहा जाता है। SRAM का full form है Static Random Access Memory। इस memory मे जो डाटा रहता है बह डाटा स्थिर रहता है, उस डाटा मे ज्यादा changes नहीं होता है। इसलिए इस memory का नाम Static रखा गेआ। Static शब्द का अर्थ ही होता है स्थिर। RAM की तरह इस cache memory भी एक volatile memory है। इस memory बहोत कम amount मे होती है और इस memory को सिर्फ CPU ही इस्तेमाल कर सकता है। Computer मे cache memory का इस्तेमाल इसलिए किया जाता है क्यूंकी Processor और RAM के बीच डाटा follow सेही से हो पाए और bottle neck जैसी situation create ना हो पाए।

आप जरूर ए सोच रहे हो आखिर ये Bottle neck होती क्या है ? चलिए जान लेते है Bottle neck क्या होता है-

Bottle neck क्या होता है- What is Bottle Neck in Hindi

देखिए दोस्तों, हमारे computer बहुत सारी hardware components की मेल बंधन से बनी हुई होती है। और उन सभी components एक दूसरे से मिलकर काम करती है। computer मे इस्तेमाल होने बाली सभी components की speed अगर high है तो overall computer की performance भी high रहता है। और अगर उन्मे से कोई components की speed slow है। तो उन component overall कंप्यूटर की performance को down या slow कर देती है। और इस situation (मतलब उन performance down) को Bottle neck कहा जाता है। इस bottle neck पूरे कंप्यूटर मे जितनी भी hardware device है सबकी performance को down कर देता है।

What is Cache-memory in hindi

आपको example के जरिए समझाता हूँ , मान लीजिए आप एक PC build किए हो उसमें सभी components महंगा वाला खरीदें हो। but आप Hard Disk लिया हो एक सस्ता बाला। उसमें क्या होगा Processor, RAM और बाकी सबी component अपना Performance सही से दिखाएगी। but जब hard disk की बारी आएगी डाटा को read और write करने की वह ज्यादा समय लेगी डाटा को read और write करने में। इससे क्या होगा आप High-end Computer build करके भी performance सही से नहीं देख पाओगे। और इन performance down को Bottle neck कहा जाता है।

आप अगर आपके computer मे Bottle neck कितना है check करना चाहते हो तो आप नीच मे दी गई Website की link को click की जिए और अपना computer की component listing की जिए और इस website आपको बतागी आपका PC का bottle neck कितना है।

System मे Cache Memory का महत्व – Importance of Cache Memory in Hindi

आखिर ये cache memory की जरूरत किउ परी ? क्या इससे पहले काम सही से चल नहीं रहा था? देखिए दोस्तों, Cache Memory क्या है? (What is Cache Memory in Hindi) बह हम जान गए है । अब हम जानेंगे cache memory की importance

cache memory की जरूरत किउ परी ? Cache memory कि जरूरत इसलिए पड़ी इसकी सबसे बड़ी वजह है Speed। हम जानते हैं हमारे Processor कितना fast होती है। प्रोसेसर काम करती है MIPS ओर GIPS मे। मतलब millions instruction per second और gigabit instruction per second तो देख लो processor काम कर रहा है micro Seconds और Nano second में। और हमारे Hard disk, RAM काम करती है mill second मे।

आपको एक simple example के जरिए समझाता हूँ – देखिए दोस्तों, एक काम को पहला आदमी ने 1 दिन में complete करता है और उसी काम को दूसरी आदमी 100 दिन मे complete करता है। तो देख लीजिए दोनों की स्पीड में कितना अंतर है। और उतनी ही अंतर प्रोसेसर और RAM, कि speed है।

देख लीजिए दोस्तों processor और RAM के बीच speed की कितना बढ़ा फरक है और उस speed की फरक को मिटाने के लिए implement किया गया है Cache memory की। क्यूंकी cache memory ही है जो processor और RAM के बीच speed की फरक को पूरी तरह से मिटती है। मतलब इस memory processor और RAM के बीच एक सामंजस्य बना कर रखती है। क्यूंकी Cache memory का speed processor के speed कि बराबर होती है। मतलब cache memory भी processor कि तरह Nano second मे काम करता है। और इसलिए computer मे cache memory की जरूरत परी।

Cache Memory कैसे काम करते है – How to work Cache Memory in Hindi

System मे cache memory का importance तो हम जान गए। अब हम जानेंगे Cache memory कैसे काम करता है। चलिए फटाफट जान लेते है-

Cache Memory क्या हWhat is Cache Memory in Hindi

देखिए दोस्तों, Cache memory कैसे काम करता है उसको जाननेसे पहले आपको जानना परेगा computer के सारा का सारा डाटा कहाँ पर रहती है और उस डाटा processor तक कैसे पहुँचती है ? और हम जानते है computer के सारा का सारा डाटा कहाँ पर रहती है। आप अगर नहीं जानते हो कहाँ पर रहती है, कोई बात नहीं मैं बता देता हूँ – computer के सारा का सारा डाटा hard disk या SSD मे रहती है । क्यूंकी HDD या SSD एक non-volatile memory होती है और इसकी storage capacity बहुत ज्यादा होती है।

आपको अगर Hard disk और SSD के बीच की अंतर को जानना है तो नीच मे दी गई notes को follow करो-

अब हम जानेंगे उस डाटा processor तक कैसे पहुँचती है और Cache memory क्या काम करता है । देखिए दोस्तों, हम जब computer को कोई task देते है, उस task को processing करने के लिए processor को उस task के related कुछ important file की जरूरत परती है। और उस important file demand करती है OS से। उसके बाद OS की instruction से उस important file hard disk से RAM मे load होती है। फिर RAM उस important file को CPU मे send करता है और उसके बाद ही task processing होता है।

आपको अगर Operating system के बारे मे A to Z जानना है तो नीच मे दी गई notes को follow करो-

processor तक जब उस important file पहुँच जाती तब Cache memory क्या करता है उस important file की कुछ vary importance portion (मतलब जो डाटा प्रोसेसर को बार-बार जरूरत पढ़ेगी है processing करने के समय ) cache memory आपने पास मे cache या load करके रहती है और जरूरत पढ़ने से उस डाटा processor को देते है। यह होता है cache memory का main काम।

इसे क्या होता है कोई भी vary important डाटा के लिए processor को बार बार RAM या HDD के पास नहीं जाना परेगा। cache memory से बह ही डाटा मिल जाने से बहोत time बच जाता है। जब processor को कोई भी डाटा की जरूरत परती है, processor को बह डाटा अगर cache memory मे मिल जाता है उस डाटा processor तक जाने मे time लगता है 45 Nano seconds। processor को अगर cache memory मे उस डाटा नहीं मिलता है,processor को जाना परता है ram या HDD मे और बह डाटा ram या HDD से processor तक जाने मे time लेता है 180 Nano seconds। तो देख लीजिए दोस्तों कितना time save होता है।

Cache Memory का Advantage:-

  1. Cache memory की speed main memory से जादा होता है ।
  2. इस मेमोरी का access time main मेमोरी से कम होती है ।
  3. इस मेमोरी ऐसा information को collect करता है जिसका जरूरत CPU को बार बार परती है ।
  4. Cache memory मे जो डाटा रहते है डाटा temporary होता है ।

Cache Memory का Disadvantage:-

  1. Cache memory का डाटा store करने की capacity बहुत कम होता है।
  2. Cache memory बहुत expansive होता है।

आपको अगर Computer Hardware मे Extra Ordinary बनना है तो आप नीच मे दी गई notes को follow करो

  1. CPU क्या है और उसकी हर एक जानकारी अब हिन्दी मे।
  2. COMPUTER PARTS IN HINDI- हर एक PARTS की DETAILS जानकारी
  3. HARD DISK क्या है (HARD DISK IN HINDI) जानिए पूरी DETAILS मे
  4. CHIPSET क्या है (WHAT IS CHIPSET IN HINDI) और SYSTEM मे इसकी IMPORTANCE को जानिए।
  5. BIOS क्या है (WHAT IS BIOS IN HINDI) और कैसे काम करते है ?
  6. माउस क्या है-WHAT IS MOUSE IN HINDI? जानिए पूरी जानकारी के साथ
  7. KEYBOARD क्या है -WHAT IS KEYBOARD IN HINDI? जानिए DETAILS मे

Cache Memory के प्रकार (Types of Cache Memory in Hindi)

सिर्फ CPU में Cache Memory का use नहीं होता है बहुत सारे devices मे भी Cache Memory का use किया जाता है for Example Hard Disk, SSD, Professional RAID Card etc. But computer की cache memory को तीन हिस्सों में बाटा गेआ है। बह है Level 1 , Level 2 , Level 3 । और इस Level 1 , Level 2 , Level 3 मे ही cache memory आपना cache की गई डाटाको store करके रखते है।

Level 1 (L1) Cache Memory या Primary Cache

हमारे CPU मे जीतने भी core होंगे L1 cache memory हर एक core के साथ associate होती है। मतलब मान लीजिए कोई CPU का 2 core है इसमे दोनो core मे ही L1 memory होंगे। जैसे आप image मे ढेख पा रही हो। इस memory का 2 part है Level 1 Instruction ओर Level 1 Data।

Level 1 Instruction :- इस Level 1 Instruction section मे उस particular CPU के core के लिए जितनी भी instruction है बह temporary base पर store रहते है।

Level 1 Data :- जितनी भी डाटा होता है बह इस data section मे store रहते है। L1 की जो speed होती है L2,L3 के मुकाबले सबसे जादा होती है। इसका speed 100-500 of gigabyte per seconds होता है।

Level 2(L2) Cache Memory या Secondary Cache

L2 cache memory भी हर एक core के साथ connect रहते है। मतलब हर एक core की individual L2 memory रहती है। इसमे सिर्फ डाटा ही store रहते है। जरूरत पढ़ने से उस data processor को देता है।

Level 3(L3) Cache Memory या Main Memory

Level 3 memory होता है एक common memory। processor के जीतने भी core होते है सभी core L3 memory को use करते है। ये एक share memory है। अगर speed wise comparison करें तो L1 सबसे fast होती है, उसके बाद होती है L2 और उसके बाद L3.

Processor कोई भी task को processing करने के समय, अगर कोई डाटा की जरूरत पड़ती है तो processor पहले जाता है cache memory के Level 1 data section पर। जब उसमे data नहीं मिलती फिर जाता है Level 2 फिर Level 3। cache memory के इन तीनों level पर अगर processer उस डाटा नहीं मिलता है तब Processor RAM के पास जाता है। और बह डाटा अगर RAM मे भी मिलता तो फिर जाता है Hard disk या Secondary memory पर। इस तरह data follow होती है पूरे computer पर।

What is Cache-memory in hindi

Cache Hit & Cache Miss क्या है – Cache Hit & Cache Miss in Hindi

Processor कोई भी task को processing करने के समय, अगर कोई डाटा की जरूरत पड़ती है तो processor पहले जाता है cache memory मे । उस डाटा अगर cache memory मे मिल जाता है उसे कहते है cache hit। और processor को उस particular डाटा अगर cache memory मे नही मिलता है उसे कहते है cache miss

Cache Mapping क्या है – Cache Mapping in Hindi

हम जब भी कोई software को run करते है हमारे computer मे उस software कि कुछ important file hard disk से RAM load होता है। फिर RAM उस important file को CPU transfer कर देती है। processor तक जब उस important file पहुँच जाती तब Cache memory उस important file की कुछ vary importance portion (मतलब जो डाटा प्रोसेसर को बार-बार जरूरत पढ़ेगी है processing करने के समय ) आपने पास मे cache या load करके रहती है। और उस particular very important file cache memory की कौनसी level पर store होगी और CPU कैसे उसे use मे लेगी बह सब decide करता है cache mapping। Cache mapping को फिर तीन भागों में बांटा गया है।

  1. Direct Mapping
  2. Associative Mapping
  3. Set-associative Mapping

Memory access time क्या है – Memory access time in Hindi

मेमोरी की एक location को पढ़ने या लिखने में जो time लगता है उसे Memory Access time कहा जाता है। memory का Access time जितना कम होती है computer की गति उतनी ही अधिक होती है।

आपके computer मे cache memory कितनी amount मे या size मे है आप कैसे पता करोगे ?

आपके computer मे cache memory कितनी amount मे या size मे है उसको पता करने के लिए-आपको taskbar पर right click करना होगा, उसके बाद task manager मे click करना परेगा। उसके बाद click करना होगा performance मे, फिर CPU मे click करके पता सकते हो आपके computer मे cache memory की size।

cache memory in hindi

Conclusion

उम्मीद करता हूँ, आप Cache Memory क्या है ( What is Cache Memory in Hindi) को read करने के बाद आपका सभी confusion clear हो गेया है और इस note से बोहत कुछ शिखने को मिला है।परन्तु यदि आपको इस पोस्ट में किसी जानकारी का अभाव लगता है या आपके पास इससे सम्बंधित कोई सवाल है. तो कृपया नीचे comment कर हमें जरूर बताये. आपके सुझाव हमारे लिए बहुत मायने रखते है.

आपको अगर Networking मे Extra Ordinary बनना है तो आप नीच मे दी गई notes को follow करो-

  1. ROUTER क्या है और काम कैसे करता है- WHAT IS A ROUTER IN HINDI
  2. NETWORK DEVICES IN HINDI- ROUTER, MODEM, SWITCH, REPEATER
  3. NETWORK क्या है और कितने प्रकारके होते है – WHAT IS NETWORK IN HINDI
  4. TCP/IP MODEL क्या है – TCP/IP MODEL IN HINDI ?
  5. OSI MODEL क्या है – OSI MODEL IN HINDI?
  6. TOPOLOGY क्या है ( TOPOLOGY IN HINDI) और कितने प्रकार के होते है ?



Spread the love

16 thoughts on “Cache Memory क्या है – What is Cache Memory in Hindi ? Best Explanation”

  1. Pingback: RAM क्या है(What is RAM in Hindi) और कैसे काम करते है ?

  2. Pingback: INTEL VS AMD Processor कौन सा Best हे ? Details Explanation

  3. Pingback: Topology क्या है (What is Topology in Hindi) और उसकी प्रकार

  4. Pingback: COMPUTER की पीढ़ियाँ ( Computer Of Generation In Hindi)

  5. Pingback: COMPUTER की इतिहास (HISTORY OF COMPUTER IN HINDI) ?

  6. Pingback: COMPUTER की प्रकार ( Types of Computer in Hindi )

  7. Pingback: Keyboard क्या है -What is keyboard in Hindi? जानिए Details मे

  8. Pingback: Computer parts in Hindi- हर एक Parts की details जानकारी

  9. Pingback: Computer क्या है-What is Computer in Hindi? जानिए Details मे

  10. Pingback: माउस क्या है-What is Mouse in Hindi? जानिए पूरे जानकारी के साथ

  11. Pingback: BIOS को कैसे Update किया जाता है-How to update BIOS in Hindi

  12. Pingback: Firmware क्या होता है - What is Firmware in Hindi

  13. Pingback: Chipset क्या है (What is Chipset in Hindi) और System मे इसकी importance को जानिए।

  14. Pingback: कंप्युटर की परिभाषा क्या है - Definition of Computer in Hindi ?

  15. Pingback: Hard Disk क्या है (Hard Disk in Hindi) जानिए पूरी Details मे

  16. Pingback: Operating System क्या है - What is OS in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *