COMPUTER की पीढ़ियाँ -Generation of computer In Hindi?

COMPUTER IN HINDI
Spread the love

आज के जमाने में सभी जगह पर कंप्यूटर का use हो रहा है । क्या आप जानते हो आज के समय मे जो computer सभी जगह पर use हो रहा है बह computer ज्यादातर किस generation का है? इस Question का answer जानने के लिए आपको इस notes (COMPUTER की पीढ़ियाँGeneration of computer In Hindi?) को last तक पढ़ना होगा। इस notes के जरिए आप जानेंगे पहले की कंप्यूटर दिखनेमे कैसा था, कैसे काम करता था, और उसकी क्या क्या विशेषता थी? चलिए बिना किसी बक्त गबाये शुरू करते है-

Generation of computer In Hindi

COMPUTER की पीढ़ियाँ – ( Generation of computer In Hindi)

Computer terminology मे generation का अर्थ यह है computer मे use होने वाली जितनी भी hardware device या software होते है उसका technically या size मे कुछ बदलाव करना। पहले के कंप्यूटर में सिर्फ Hardware technology का परिवर्तन किया जाता था but आज के जमाने में hardware के साथ साथ software कभी परिवर्तन किया जाता है। उसी के परिवर्तन के हिसाब से computer को पाँच पीढ़ी मे विभक्त किया गया है।

  • पहली पीढ़ी का Computer: 1946-1959. Vacuum tube आधारित है।
  • दूसरी पीढ़ी का Computer: 1959-1965. Transistor आधारित है।
  • तीसरी पीढ़ी का Computer: 1965-1969. integrated circuit आधारित है।
  • चौथी पीढ़ी का Computer: 1969-1980. VLSI microprocessor आधारित है।
  • पाँचवी पीढ़ी का Computer: 1980-onwords. ULSI microprocessor आधारित है।

कंप्युटर की पहली पीढ़ी – First Generation of Computers in Hindi?

1946 से लेकर 1959 तक इस समयकाल को कंप्युटर का पहला पीढ़ि कहा जाता है । इस पीढ़ि मे जितनी भी computer बनाया गेया उन सभी computer को बनाने मे main component के रूप मे vacuum tube का इस्तेमाल किया जाता था। कारण उस समय vacuum tube electric current को control कर पता था। इस पीढ़ि मे computer की डेटा को store करने के लिए magnetic drum का इस्तेमाल किया जाता था। अगर बात करें vacuum tube कि उस समय में computer की primary memory और CPU के बेसिक component थे। मतलब इस vacuum tube ही कोई भी data को प्रोसेस करता था।


इस पीढ़ी का सबसे प्रथम कंप्यूटर है ENIAC । इस कंप्यूटर का weight लगभग 30 टन था जिसका आकार एक घर के बराबर था। इस computer मे 20000 vacuum tube इस्तेमाल किया गया था। इस कंप्यूटर कोई भी दो number को जोड़(+) करने में 200 micro Seconds और गुणा(*) करने में 2000 micro Seconds समय लेता था। इसे संचालित करने में 1,50,000 watt का बिजली की आवश्यकता होती थी। इस पीढ़ी के कंप्युटर सिर्फ गणितिक calculation करते थे ।

Generation of Computer in Hindi
पहली पीढ़ी का विशेषताएं (Feature of First Generation Computers)
  1. इस पीढ़ी मे vacuum tube का इस्तेमाल किया गेया है ।
  2. इस पीढ़ी में सभी कंप्यूटर machine language को समझता था।
  3. इस generation के computer बहुत महंगा होता था।
  4. इस पीढ़ी का कंप्यूटर बहुत ज्यादा गर्म (Heat) होता था।
  5. Speed में सभी कंप्यूटर slow work करता था ।
  6. इस gen के कंप्यूटर आकार में बहुत बड़ी होती थी।
  7. AC (Alternative Current) की आवश्यकता होता था।
  8. बहुत इलेक्ट्रिसिटी का इस्तेमाल करते थे।
  9. इस पीढ़ी के कंप्युटर को बहन करना नामुमकिन था।
  10. इस पीढ़ी के कंप्युटर सिर्फ गणितिक calculation करते थे ।
Some computers of this generation-
  • ENIAC
  • EDVAC
  • UNIVAC
  • IBM-701
  • IBM-650

कंप्युटर की दूसरी पीढ़ी -Second Generation of Computers in Hindi?

1959 से लेकर 1965 तक इस समयकाल को कंप्युटर का दूसरी पीढ़ि कहा जाता है। दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर में main component के रूप में Transistor का इस्तेमाल किया गया था। Transistor एक semiconductor memory होता है। vacuum tube जो कार्य करता है वही काम transistor भी करता है ।

Transistor का size vacuum tube की तुलना में बहुत छोटी होती थी। इस पीढ़ी में magnetic core को प्राइमरी मेमोरी के रूप में ओर magnetic tape and magnetic dish को secondary memory के रूप मे उपयोग किया गया था। इसी पीढ़ी में Programming language का भी आविष्कार हुआ था। जिनमें मुख्य रुप से Cobol और Fortran नामक high level language इस पीढ़ी में use शुरू हुआ था।

Generation of Computer in Hindi
दूसरी पीढ़ी का विशेषताएं (Feature of Second Generation Computers)
  1. इस पीढ़ी मे Transistor का इस्तेमाल किया गेया है ।
  2. पहला पीढ़ी के तुलना में इस पीढ़ी का कंप्यूटर आकार में छोटा हुआ करते थे।
  3. इस पीढ़ी का सभी computer कम गर्मी उत्पन्न करता था पहला पीढ़ी के तुलना में।
  4. इस पीढ़ी मे भी computer को चलाने मे AC आवश्यकता होता था।
  5. पहला पीढ़ी के तुलना में इस पीढ़ी का कंप्यूटर जादा fast थी।
  6. इस पीढ़ी मे machine language के साथ साथ assembly language को भी support करता था।
Some computers of this generation-
  • IBM 1620
  • IBM 7094
  • CDC 1604
  • CDC 3600
  • UNIVAC 1108

कंप्युटर की तीसरी पीढ़ी -Third Generation of Computers in Hindi?

1965 से लेकर 1971 तक इस समयकाल को कंप्युटर का तीसरी पीढ़ी कहा जाता है। Third generation के computer मे transistor कि स्थान पर integrated circuit का इस्तेमाल किया गया था। 1958 मे jack Kilby और robort noyce ने पहली बार ट्रांजिस्टर के स्थान पर integrated circuit का use करके computer बनाया । जिस integrated circuit तथा Transistor, register और capacitor का समूह था।

integrated circuit के कारण computer के आकार और भी अधिक छोटा हो गेया। integrated circuit का उपयोग करने पर computer अधिक fast हुआ है। इस पीढ़ी में पहली बार user कंप्यूटर मे डाटा को इनपुट करने के लिए keyboard और डाटा को आउटपुट के रूप मे देखने के लिए मॉनिटर का उपयोग किया गया था। इस पीढ़ी में ही कहीं Programming language का आविष्कार हुआ जैसे – basic, Paskal , Fortan 2,3,4.

Generation of Computer in Hindi
तीसरी पीढ़ी का विशेषताएं (Feature of Third Generation Computers)
  1. इस पीढ़ी मे integrated circuit का इस्तेमाल किया गेया है ।
  2. पिछली दो पीढ़ियों की तुलना में अधिक विश्वसनीय था इस पीढ़ी का computer ।
  3. आकार मे बोहत छोटा हुया करथा था ।
  4. कम गर्मी उत्पन्न करता था पिछली दो पीढ़ियों की तुलना में।
  5. Faster था पिछली दो पीढ़ियों की तुलना में ।
  6. इस पीढ़ी मे सभी Computer बहुत costly होता था।
  7. इस पीढ़ी मे भी computer को चलाने मे AC आवश्यकता होता था।
  8. high level language को support करता था ।
Some computers of this generation-
  • IBM-360 series
  • Honeywell-6000 series
  • PDP (Personal Data Processor)
  • IBM-370/168
  • TDC-316
Related notes-

कंप्युटर की चौथी पीढ़ी -Fourth Generation of Computers in Hindi?

1971 से लेकर 1980 तक इस समयकाल को कंप्युटर का चौथी पीढ़ी कहा जाता है। Fourth generation मे VLSI (Very large scale integration) microprocessor का इस्तेमाल किया गया था। हजारों आईसी (IC) को मिलाकर एक VLSI microprocessor निर्मित होता है। इस पीढ़ी में कई New Language का आविष्कार हुआ वह है C, C++, dbase । VLSI Microprocessor का use जब से हुआ उस समय से ही computer compact हो गई है।

Generation of Computer in Hindi
चौथी पीढ़ी का विशेषताएं (Feature of Fourth Generation Computers)
  1. इस पीढ़ी मे VLSI microprocessor का इस्तेमाल किया गेया है।
  2. इस पीढ़ी के समय से ही computer का price थोरा सस्ता हो गेया था ।
  3. Portable and reliable था इस पीढ़ी का कंप्युटर।
  4. इस पीढ़ी के समय से ही computer को PC बोला जाता था।
  5. पिछली सारे पीढ़ियों की तुलना में इस पीढ़ि का सभी computer आकार मे बहुत small and compact हुया करता थी।
  6. इस पीढ़ी के समय से ही computer मे AC का need पूरी तरह से खतम हो गेया था अब इस computer को चलाने मे DC आवश्यकता होती है ।
  7. इस पीढ़ी से ही हम computer मे Internet का use कर पते थे।
Some computers of this generation-
  • DEC 10
  • STAR 1000
  • PDP 11
  • CRAY-1(Super Computer)
  • CRAY-X-MP(Super Computer)

कंप्युटर की पाँचवी पीढ़ी -Fifth Generation of Computer in Hindi?

1980 से शुरू हुआ पांचवी पीढ़ी और आजके जमाने में use होने वाली सभी computer इस पीढ़ी का हिस्सा है। पाँचवी पीढ़ी मे एक new technology उभर के आए जिसका नाम है ULSI microprocessor (ultra large scale integration)। एक ULSI microprocessor को बनाने मे 10 lack तक electronic component जरूरत परती है ।

इस पाँचवी पीढ़ी मे ही Artificial Intelligence, Mobile Communication, Satellite Communication, Signal data processing को start किया गेया । इस पीढ़ी में Advanced New Language का आविष्कार हुआ वह है- Java VB .NET

Generation of Computer in Hindi
पाँचवी पीढ़ी का विशेषताएं (Feature of Fifth Generation Computers)
  1. इस पीढ़ी मे ULSI microprocessor का इस्तेमाल किया गेया है।
  2. इस पीढ़ी का computer अधिक विश्वसनीय है।
  3. बहुत तेजी से काम करने की क्षमता रखता है इस generation की कंप्युटर।
  4. इस पीढ़ी मे computer stylish हो गया है।
  5. आकार और speed के विषय में इस पीढ़ी सबसे अच्छा है पिछले पीढ़ीयो से ।
  6. यह कई आकारों में उपलब्ध है।
  7. user friendly हो गेया है इस generation की कंप्युटर।
Some computers of this generation-
  • Desktop
  • Laptop
  • Notebook
  • Ultrabook
  • Chromebook

Conclusion

उम्मीद करता हूँ, आप COMPUTER की पीढ़ियाँ – (Generation of computer In Hindi) को read करने के बाद आपका सभी confusion clear हो गेया है और इस note से बोहत कुछ शिखने को मिला है। परन्तु यदि आपको इस पोस्ट में किसी जानकारी का अभाव लगता है या आपके पास इससे सम्बंधित कोई सवाल है. तो कृपया नीचे comment कर हमें जरूर बताये. आपके सुझाव हमारे लिए बहुत मायने रखते है.

Related Topic :-

  1. BOOTING PROCESS क्या है – WHAT IS BOOTING PROCESS IN HINDI?
  2. BIOS को कैसे UPDATE किया जाता है- HOW TO UPDATE BIOS IN HINDI?
  3. KERNEL क्या है – WHAT IS KERNEL IN HINDI?
  4. INTERNET की पूरी इतिहास – HISTORY OF INTERNET IN HINDI?
  5. FIRMWARE क्या होता है – WHAT IS FIRMWARE IN HINDI?
  6. VPN क्या है और कैसे काम करता है ? WHAT IS VPN IN HINDI







Spread the love

7 thoughts on “COMPUTER की पीढ़ियाँ -Generation of computer In Hindi?”

  1. Pingback: RAM क्या है(What is RAM in Hindi) और कैसे काम करते है ?

  2. Pingback: CPU क्या है (What is CPU in Hindi) & उसकी जानकारी अब हिन्दी मे

  3. Pingback: COMPUTER की इतिहास (HISTORY OF COMPUTER IN HINDI) ?

  4. Pingback: Computer क्या है-What is Computer in Hindi? जानिए Details मे

  5. Pingback: Keyboard क्या है -What is keyboard in Hindi? जानिए Details मे

  6. Pingback: COMPUTER की प्रकार ( Types of Computer in Hindi ) – IT Intelligance

  7. Pingback: INTEL VS AMD Processor कौन सा Best हे ? Details Explanation

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *