Keyboard क्या है – What is keyboard in Hindi? जानिए Details मे

What is keyboard in Hindi
Spread the love

computer के सबसे महत्वपूर्ण input device होता है keyboard। इस कीबोर्ड की मदद से ही हम कंप्युटर को कोई भी instruction देते है जिसकी मुताबिक कंप्युटर काम करता है। और आज हम जानेंगे उसी keyboard के बारे मे। इस article के मदद से आप keyboard के बारे मे बहुत कुछ important चीज जानेंगे। जैसे- कीबोर्ड क्या है, कीबोर्ड के प्रकार, Keyboard कैसे काम करते है, कीबोर्ड की बनावट या Layout , कीबोर्ड में कितने प्रकार की Keys होती है और उनके कार्ये, कुछ मुख्य Typing Keys और उनका उपयोग, Keyboard को Computer मे connect करने की Interfaces, etc. और भी बहुत कुछ।

What is keyboard in Hindi

Keyboard क्या है – What is Computer keyboard in Hindi?

हम जब किसी कागज मे कुछ लिखने की कोशिश करते है तब जरूरत पढ़ती है कलम कि। ठीक उसी तरह computer मे भी कुछ लिखने और कंप्युटर को कोई instruction देने के लिए जिस device का use हम करते है उसे keyboard कहा जाता है । Keyboard एक input device होता है। इसका उपयोग मुख्य रूप से computer मे command, texts, numeric value etc. को enter करने के लिए किया जाता है।

कीबोर्ड के प्रकार -Types of keyboard in Hindi?

कंप्युटर कीबोर्ड क्या है और क्या काम करता है सायद आप अछि तरह से जान गए हो। किन्तु इसी के विचार से आप अगर एक कीबोर्ड खरीदने के लिए जाओगे तो आप सही कीबोर्ड नहीं चुन पाओगे। क्योंकि आज के समय में कीबोर्ड बहुत सारे अलग-अलग प्रकार में आ रहा है। और उन सभी कीबोर्ड में extra features भी उपलब्ध है। उन सभी extra feature के मुताबिक keyboard को कही भागों मे बीभक्त किया गेआ है। और आज के समय मे जिस types के keyboard अधिकतर use होते है उसका वर्णन नीचे किया गया है-

Basic Keyboards in Hindi

Basic keyboard एक ऐसा कीबोर्ड होता है इसमें सिर्फ basic key ही रहता है मतलब इस keyboard मे alphabet keys, numeric keys, Navigation Keys, Function Keys, control keys इन सब keys रहता है। और इस कीबोर्ड में कोई extra feature या additional key नहीं रहता। इसीलिए इस keyboard को बेसिक कीबोर्ड कहा जाता है।

What is keyboard in Hindi

Multimedia Keyboards in Hindi

इसके बाद जो Keyboard आता है वह है Multimedia Keyboard। इस कीबोर्ड में basic key के साथ साथ extra feature बाली additional key भी रहता है। और उस additional keys कीबोर्ड के ऊपर या साइड में रहता है। उस additional key से आप music volume को up या down कर सकते हो , media player को control कर सकते हो, mail, calculator open कर सकते हो, और कंप्युटर को shut down भी कर सकते हो। और आज के समय में तो मल्टीमीडिया कीबोर्ड के साथ आपको headphone socket, USB socket और कुछ-कुछ मल्टीमीडिया कीबोर्ड मे तो आपको display भी मिल जाता है।

What is keyboard in Hindi

Flexible keyboard in Hindi

अगला types हमारे पास आता है Flexible keyboard । यह कीबोर्ड पूरी तरह से Flexible होता है इसको fold करके आप आपके pocket में या bag में भरकर ले जा सकते हो। Flexible keyboard silicon से बने हुए होते हैं इसलिए इस कीबोर्ड water proof और dust proof भी होते हैं।

What is keyboard in Hindi

Gaming PC Keyboard in Hindi

इस समय मे सबसे famous और सबसे popular keyboard है Gaming keyboard। क्यूंकी इस समय मे Gaming का चल बहुत बढ़ गेआ है। सिर्फ game को अच्छी तरह से खेलने के लिए इस keyboard को बनाया गेआ है। इस keyboard मे RGB lights रहता है और उस RGB light कीबोर्ड को खास look देता है। इस कीबोर्ड मे बहुत सारे additional keys भी रहता है, जिससे आप बहुत कुछ control कर सकते हो। और कुछ कुछ keyboard मे तो Display भी रहता है। इसलिए इस keyboard की price थोरा ज्यादा होता है बाकी सारे कीबोर्ड के तुलना मे।

What is keyboard in Hindi

Specials Keyboard in Hindi

इसके बाद जो types आता है कीबोर्ड की वह है special keyboard। special keyboard की नाम सुनते ही आपको पता चल गया होगा स्पेशल कामों को करने के लिए इस कीबोर्ड को use में लिया जाता है। जैसे stock exchange , research, industry etc. इसी जगह इस keyboard को use किया जाता है।

What is keyboard in Hindi

Keyboard कैसे काम करते है -How to work keyboard in Hindi?

keyboard से क्या काम किया जाता है और keyboard के Types क्या क्या है बह तो हम जान गए है। क्या आप जानते हो Keyboard कैसे काम करते है और आज हम उस ही चीजको जानेंगे। मतलब हम जब भी keyboard मे कोई key को press करते है उस key हमारे monitor मे show होता है। आखिर ये Keyboard कैसे जान लेते है कोनसा key को press किया गया है? चलिए दोस्तो फटाफट से जान लेते हैं Keyboard कैसे काम करते है?

नीच में दिए गए image को देखो । image मे जैसे आप देख रहे हो बैसे ही keyboard में हर एक Key के नीचे यह circuit broken रहता है यानी टूटा हुआ रहता है।

What is keyboard in hindi

जैसे ही कोई key को press किया जाता है बह circuit close या fill हो जाता है। और इस circuit जब तक close या fill रहता है तब तक उस जगह से थोड़ा थोड़ा current flow होता रहता है, और उसी के साथ एक vibration भी होती है जिसे Bounce कहा जाता है। और उस current या vibration keyboard के processor के पास जाता है और उसके बाद keyboard के processor उस current या vibration को filter करता है और identify करता है कोनसा key को press किया गेआ है।

और उसी के हिसाब से monitor मे बह key show होता है। अगर कोई key को बहुत समय तक press करके रखा जाता है तो keyboard की processor समझता है उस key को बार बार press किया जा रहा है। इसी तरह से सभी keyboard काम करते है।

Related Notes-

कीबोर्ड की बनावट – Types of Keyboard Layouts in Hindi?

कीबोर्ड पर सभी Keys की विशेष Position को ही Keyboard Layouts कहते है। Keyboard Layouts ही कीबोर्ड की बनावट, Size तथा types को निर्धारित करता है।

हम सभी एक ही keyboard layouts के बारे मे ज्यादा तर परिचित है बह है QWERTY layouts। QWERTY layouts के अलावा और भी बहुत layouts है। और उन सभी layout के बारे मे आज हम जानेंगे। चलिए जान लेते है keyboard के ओर भी कुछ important layouts।

English alphabet आया है पुराने Latin alphabet से। इसलिए जहां पर proper English language बोला जाता है जैसे कि UK, AUS, IND, etc. country पर QWERTY लेआउट बहुत फेमस है।

  1. QWERTY:-Keyboard की layout के बारे मे अगर बात करे तो पहले number पे आता है QWERTY layout। इस layout के बारे में बात करने के लिए ज्यादा कुछ है नहीं। इसके बारे में सबको पता है। इस layout का use सभी जगह पर होता है और हम लोग भी इस layout का इस्तेमाल करते हैं हमारे laptop, computer, mobile , etc. मे। इस layout के अलावा और भी layout है।
What is keyboard in Hindi

But कुछ European country के लिए इस layout proper नही है । इसलिए उन country अपने जरूरत के हिसाब से इस QWERTY layout मे कुछ फेरबदल करके use करते है और हमे देखने को मिलता है इस लेआउट का कुछ different version।

  • QWERTZ:- इस layout Use होता है French, Spanish, Garman, Swish, Hungary, Poland etc. Country मे ।
  • AZERTY:- इस layout Use होता है France, Belgium Country मे।
  • QZERTY:- इस layout Use होता है Italy, Country मे।

2. DVORAK:- QWERTY Layout के बाद जो layout famous है DVORAK layout। इस layout को बनाया Washington University के Professor August Dvorak ने। इन्होंने ज्यादा use होने बाली keys को meddle row मे रखा। इस layout को use करने से आपका finger movement कम हो जाता है और Typing speed बढ़ जाता है।

What is keyboard in Hindi

कीबोर्ड में कितने प्रकार की Keys होती है और उनके कार्ये ?- How many types of keys are present in keyboard and their functions in Hindi?

आज के समय मे QWERTY layout सभी जगह पर use हो रहा है और इस लेख में भी इसी प्रकार के Keyboard का इस्तेमाल किया गेआ है। और इस keyboard पर जितनी भी Keys है उन सभी keys से क्या काम किया जाता है, बह हम आज जानेंगे।

कीबोर्ड में मौजूद प्रत्येक keys का अपना विशेष कार्य होता है। और इसी कार्य के आधार पर इनको निम्न 6 श्रेणीयों में बाँटा गया है। जिनका वर्णन नीच मे किया गेआ है-

  1. Function Keys
  2. Typing Keys
  3. Control Keys
  4. Navigation Keys
  5. Indicator Lights
  6. Numeric Keypad
What is keyboard in Hindi

Function Keys

Function Keys Keyboard में सबसे ऊपर होती है । Keyboard में F1 से F12 तक key को बोला जाता है Function Keys। इस Keys का उपयोग विशेष कार्य को करने के लिए किया जाता है। F1 से F12 तक keys की मदद से क्या विशेष कार्य किया जाता है इसको जान ने के लिए आपको इस notes last तक पढ़ना होगा।

Typing Keys

सबसे अधिक उपयोग Typing keys का ही होता है। Typing keys में alphabet key के साथ साथ numeric keys भी शामिल होती है, इसलिए इसको Alphanumeric keys भी कहा जाता है। Typing keys में सभी तरह के symbols तथा punctuation marks भी शामिल होते है।

Control Keys

इन keys को अकेले या अन्य keys के साथ कोई निश्चित कार्य करने में इस्तेमाल किया जाता है। एक Keyboard में अधिकतर Ctrl key, Alt key, Window key, Esc key का उपयोग Control keys के रूप में किया जाता है. इनके अलावा Menu key, Scroll key, Pause Break key, Print screen key etc. keys भी control keys में शामिल होती है।

Navigation Keys

Navigation keys में परती है Arrow keys, Home, End, Insert, Page Up, Delete, Page Down। इनका use किसी document, webpage etc. की इधर-उधर जाने के लिए किया जाता है। .

Indicator Lights

Keyboard मे जहां पर Numeric keypad रहता है ठीक उसके ऊपर present रहता है indicator light। कीबोर्ड में मूल रूप से 3 indicator light रहता है।

  1. पहला indicator light अगर on रहता है इसका अर्थ यह है numeric keypad on है और अगर यह light off रहता है इसका अर्थ numeric keypad बन्द है।
  2. दूसरा indicator light यह इंगित देता है अगर इस लाइट on रहती है आप जो कुछ alphabet types करोगे वह uppercase में type होगा,अगर यह लाइट Off रहता है तो समझिए जो भी alphabet आप टाइप करोगे वह lowercase मे type होगा।
  3. तीसरी इंडिकेटर लाइट जिसे Scroll Lock के नाम से जाना जाता है। पहले जमाने की computer मे सारा काम cmd मे ही करना परता था और उस टाइम mouse का support भी नहीं होता था। और उस time इस key का उपयोग Command prompt (cmd) मे Scrolling करने के लिए किया जाता था। but आज के time इस key का use नहीं होता है because mouse के मदद सेही हम scrolling कर लेते है।

Numeric Keypad

इन्हे हम Calculator keys भी कह सकते है, क्योंकि एक Numeric keypad में लगभग एक calculator के समान ही keys होती है। इनका इस्तेमाल numbers लिखने में किया जाता है।

यह भी पढे –

कुछ मुख्य Typing Keys और उनका उपयोग

आपकी कीबोर्ड में maximum keys की function या उनके कार्ये को तो आप जानते ही हो, पर कीबोर्ड मे कुछ keys ऐसी भी है (जैसे-Home key, END key, Pause key etc.) जिसका उपयोग आपने शायद नहीं किया होगा या फिर आपको पता नहीं होगा। और उन सब keys का उपयोग आप कैसे कर सकते हो चलिए एक एक करके सब जन लेते है।

  • Home key और END key का इस्तेमाल typing मे होता है। आप अगर कोई भी डॉक्यूमेंट के बीच में हो तो तब काम आएगा Home key और END key का। डॉक्यूमेंट के बीच मे curser ले जाकर आप अगर home key press करते हो तो curser line के प्रथम मे आ जाएगा और अगर End key press करते है तो curser line के end मे चला जाएगा।
  • Pause key का उपयोग कोई भी प्रोग्राम को pause करने के लिए किया जाता है। इसका use command prompt मे ज्यादा तर होता है।
  • Print screen का उपयोग computer मे screenshot लेने के लिए किया जाता है । आप अगर Print screen key को press करके notepad या paint में जाकर ctrl+v प्रेस करते है तो screenshot वहां पर paste हो जाएगा।
  • F1 key को press करने से help center open होता है, आप उस time जिस प्रोग्राम या application मे हो उसका।
  • F2– कोई भी फाइल या फोल्डर का name change या rename करने के लिए F2 key का इस्तेमाल किया जाता है।
  • F3 का use application को search करने के लिए किया जाता है।
  • F4 key को अगर press करते है तो कोई काम नहीं होगा ,आपको क्या करना पड़ेगा alt के साथ f4 key को press करना पड़ेगा। alt+F4 जैसे ही आप press करोगे आपका running program close हो जाएगा। कोई भी running program को close करने के लिए use किया जाता है।
  • F5 का use basically computer को refresh करने के लिए किया जाता है।
  • F6 का उपयोग browser के URL मे जाने के लिए किया जाता है।
  • F7 का use आप MS office word, Excel, PowerPoint मे Spelling को check करने के लिए किया जाता है।
  • F8 का उपयोग computer start होने के समय safe mode मे जाने के लिए और MS word मे सभी words को select करने के लिए किया जाता है ।
  • F9 key का उपयोग computer start होने के समय boot Manu मे जाने के लिए।
  • F10 इसका use MS word मे shortcut Manu show करने के लिए किया जाता है।
  • F11 का उपयोग basically कोई भी application या software को full screen करने के लिए किया जाता है।
  • F12 key का use basically MS word मे कोई भी file को save करने के लिए किया जाता है ।

कीबोर्ड को कंप्युटर मे connect करने की Interfaces – How to Connect Keyboard to Computer in Hindi?

सब सेश मे आता है keyboard की Connection । और इस connection की हिसाब से keyboard को तीन भागों में बाटा गेआ है बह है wire , PS2, Wireless । चलिए एक एक करके सब जान लेते हैं।

PS2 Keyboard

Connection के हिसाब से पहले जो कीबोर्ड आता है वह है PS2 Keyboard। इसकी खूबी यह है इसमें डाटा ट्रांसफर बहुत फास्ट होता है। और इसकी disadvantage यह है पहले तो इस कीबोर्ड plug & play डिवाइस नहीं है और दूसरा इसको computer मे install करना थोड़ा difficult है। और इसी के लिए आज के जमाने में इस keyboard का यूज़ नहीं किया जाता है।

USB Keyboard

इसके बाद जो कीबोर्ड आता है USB कीबोर्ड। इस कीबोर्ड आज बहुत famous है इसका main कारण है पहले तो इस type के कीबोर्ड Plug & Play होता है और इसको कंप्यूटर में Install करना बहुत easy है। इसका एक Disadvantage है इसमें डाटा ट्रांसफर थोड़ा slow होता है PS2 के तुलना में। But USB का generation जितना up हो रहा है उतना इसका speed मे सुधर आ रहा है।

Wireless Keyboard

Wireless keyboard ps2 और usb की तरह उतना fast तो नहीं होते लेकिन इस type के keyboard मे कोई केबल नहीं रहता तो cable को संभालने की भी जरूरत नहीं होती है । इसका सबसे बड़ा advantage है कंप्यूटर के सामने बैठकर ही टाइप करना पड़ेगा ऐसा नहीं, इसको आप चाहे तो कंप्यूटर से दूर बैठ कर भी इस keyboard की मदद से आप Typing कर सकते हो। यह भी plug & play होता है ।

Top 5 Hindi keyboard download for PC

आप अगर आपने PC या laptop पर हिन्दी मे typing करना चाहते हो तो नीच मे दी गई कोई software को download करके use कर सकते हो-

  1. Hindi Inscript Typing Tutor
  2. Hindi Indic IME 1
  3. JR Hindi English Typing Tutor
  4. Hindi Fonts Converter
  5. Hindi Indic Input 2

Conclusion

उम्मीद करता हूँ, आप Keyboard क्या है -What is keyboard in Hindi को read करने के बाद आपका सभी confusion clear हो गेया है और इस note से बोहत कुछ शिखने को मिला है। परन्तु यदि आपको इस पोस्ट में किसी जानकारी का अभाव लगता है या आपके पास इससे सम्बंधित कोई सवाल है. तो कृपया नीचे comment कर हमें जरूर बताये. आपके सुझाव हमारे लिए बहुत मायने रखते है।

यह भी पढे
  1. FIRMWARE क्या होता है – WHAT IS FIRMWARE IN HINDI
  2. KERNEL क्या है – WHAT IS KERNEL IN HINDI?
  3. BIOS को कैसे UPDATE किया जाता है- HOW TO UPDATE BIOS IN HINDI
  4. BIOS क्या है (WHAT IS BIOS IN HINDI) और कैसे काम करते है ?

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *