Operating System क्या है – What is OS in Hindi

OS is Hindi
Spread the love

आज हम जानेंगे operating system के बारे में। और इस एक Notes से हम जानेंगे Operating system क्या है (What is OS in Hindi), operating system की कार्य, क्यू हर Computer में operating system को इस्तेमाल किया जाता है , कौन कौन operating system पूरे विश्व में famous है, उन operating system में से कोनसा operating system को users ज्यादा use करते है, OS कहा पर store रहते है? इन ढेर सारे सवाल का जवाब। इसके लिए आपको पूरा notes पड़ना होगा। चलिए दोस्तो शुरू करते हैं :–

OS in Hindi

Operating System क्या है – What is OS in Hindi

Operating system एक प्रकार का system Software है। जिस software के अंदर एक Programs का set रहता है। और उस programming के through Operating system user और hardware components (CPU, RAM, HDD, etc.) को जोरके रखते है। मतलब हम जब भी कम्प्यूटर को कोई काम देते हैं तब Operating system programming को use करके hardware components के through हमारा कामों को सम्पन्न करा लेता है। असल में एक ऑपरेटिंग सिस्टम user और hardware components के बीच एक interface की तरह काम कर रहा है। Operating system को OS के नाम से भी जाना जाता है।

OS in Hindi

आपको और भी आसान भाषा मे समझाता हूँ Operating System क्या है. देखिए दोस्तों, हमारे Desktop और Laptop computer के अंदर बहुत सारे Hardware component रहता है और हम जब Desktop और Laptop computer को इस्तेमाल करते हैं तब उन सब Hardware component को ही इस्तेमाल करते है। किन्तु उन hardware components को हम Directly इस्तेमाल नहीं करते हैं, उस hardware को operating system की through इस्तेमाल करते है । और यहां पर ही ऑपरेटिंग सिस्टम user और hardware components के बीच एक interface या bridge की तरह काम कर रहा है।

किउ सभी system मे operating system को install करना परता है – Why use an operating system in Hindi?

अब सवाल आता है, किउ सभी system मे operating system को install करना परता है ? अगर हम हमारे system मे कोई तरह के operating system को install नहीं करते तो क्या होता? चलिए इन सब questions की answer जान लेते है:-

 operating system in Hindi

किउ सभी system मे operating system को install करना परता है ? क्यूंकी हम कंप्युटर मे present hardware component को directly access नहीं कर सकते है। उन सब hardware component को access करने के लिए बहुत सारे programming की जरूरत परती है। और उन सब programming शायद user को शिखना परेगा नहीं तो एक ऐसा platform इस्तेमाल करना परेगा जहां पर उन सब programming रेहता हो । और Operating system एक ऐसा platform है जहां पर उन सब programming store रहता है। इसलिए सभी hardware component को सही तरह से इस्तेमाल करने के लिए operating system को install करना परता है।

यह जानने के बाद भी आप अगर आपके system मे कोई प्रकार के Operating system install नहीं करते हो तो क्या होगा? ऐसा होगा दोस्तों, आप जब भी कोई particular hardware components को access करना चाहोगे , मान लीजिए आप CPU को use करना चाहते हो तो CPU को use करने के लिए आपको पहले program लिखना परेगा। और उस program के through ही आप CPU को access कर पाओगे।

आपको एक real time example के through ही समझाता हूँ, मान लीजिए आपके कंप्यूटर में कोई ऑपरेटिंग सिस्टम available नहीं है, तो इस situation में आप अगर कोई Word File या Document का print देना चाहते हो। तो उस Document को print देने से पहले आपको एक ऐसा program लिखना पड़ेगा जिस program को समझ कर आपका printer बह document प्रिंट कर सके। और इसी तरह कंप्यूटर से कोई भी काम कराने के लिए आपको अलग अलग program लिखना पड़ेगा। सिर्फ एक बार नहीं यह program आपको बार बार लिखना पड़ेगा। इसकी वजह से user और hardware component के बीच में बहुत complexity पैदा होगी।

Operating system इस User और hardware devices के बीच की complexity को हटाता है। मतलब OS के अंदर हर एक hardware devices को access करने के लिए अलग अलग command या program पहले से ही लिखा हुआ रहता है। इसके अलाबा और भी कही important reason है, जिनकी वजह से हम हमारे system मे Operating system को इस्तेमाल करते है। बह reason क्या क्या है जिसकी वजह से हम ऑपरेटिंग सिस्टम को use करते हैं बह हम देखेंगे Operating System की function में।

Function of Operating System in Hindi (Operating System की कार्य)

Operating System बहुत सारे काम करते है, और क्या क्या काम करता है । चलिए एक एक करके देख लेते है:-

OS in Hindi

1. Memory Management:

operating system का काम होता है Main memory या primary memory को manage करना। system का Primary memory या main memory होता है RAM। processor जो भी task को process करता है उस task का सारा important डाटा primary memory से ही उठाता है । और जब CPU कोई भी task को process करने के लिए RAM से important डाटा लेने आते है तव CPU को नहीं पता रहता है RAM की कोणसी chip में या location मे डाटा है ।

और इस situation में Operating System CPU को बताता है कोणसी chip मे या location मे बह डाटा है, और कितने amount मे लेना है। OS CPU को सही information देता है ताकि CPU primary memory (RAM) को सही तरह से इस्तेमाल कर पाए। यह तो सिर्फ एक example है, Primary Memory से related सभी situation को इसी तरह manage करता है Operating System।

2. Processor Management:-

processor (CPU) के सारे कामोको भी manage करता है operating system । मतलब Processor जब multiprogram (मतलब बहुत सारे individual program) को process करता है उस समय processor को नहीं पता रहता है कौनसा प्रोग्राम को पहले process करना है, या कौनसा प्रोग्राम को बाद में या कोनसा program को कितना time देना है process होने के मे, यह सब कुछ OS ही decide करके देता है Processor को। और उसके अनुसार प्रोसेसर काम करता है। operating system की इस कामको process scheduling कहा जाता है।

3. Device Management:

कंप्यूटर में लगे हुए सभी Input Output डिवाइस को manage करता है OS। हमारे system मे बहुत सारे input output device रहते हैं। operating system उन सभी Devices को Track करता है और उनके जानकारी रखते है। Processor जब कोई डाटा को Process करता है उन समय अगर processor को कोई भी input या output Devices की जरूरत परती है, तब operating system उस input या output device को processor के सामने Allocate करता है । और जब Processor का काम ख़तम हो जाता है तब operating system वापस processor से उस input या output device को Deallocate करता है। मतलब processor से उस devices को ले लेता है।

4. File Management:-

हम सब जानते हैं हमारा सभी फाइल या folder Secondary memory मे रहता है। मतलब hard disk या ssd मे रहता है। और operating system इस storage device को भी manage करने का काम करता है। Processor को जब कोई डाटा की आवश्यकता होती है या जब कोई डाटा को permanently store करने की आवश्यकता होती है तब secondary memory के पास जाता है। और उस situation मे OS processor को बताती है secondary memory के कोनसे location से डाटा को उठाना है या कोनसे location पर डाटा को store करना है ।

5. Security:-

Operating system आपके system को Unauthenticated access से बँचाता है। मतलब हर एक बार हम जब हमारे computer को start करते है तब Operating system हमारे से password माँगता है। और password देने के बाद ही हम कंप्युटर को access कर पाते है। इसकी बजह से हमारे कंप्युटर secure रहता है।

6. Control over system performance:-

Operating system पूरे system performance के ऊपर monitoring करते है। मतलब जब कोई hardware device या software का performance slow हो जाता है तब OS Warning message दिखाती है।

7. Error detecting aids:-

जब कोई hardware device या software आपना काम करना बंद कर देती है या उस device या software मे कोई major problem आ जाती है तब Operating system error message दिखाती है।

8. Coordination between other software and users:-

Operating system अलग अलग Software को User के साथ जोड़ता है, जिस से user Software को अछे से इस्तेमाल कर पाए। और Operating system की बजह से users और software के बीच एक अच्छा Coordination create होता है।

Related Notes :-

  1. CPU क्या है (WHAT IS CPU IN HINDI) & उसकी जानकारी अब हिन्दी मे
  2. RAM क्या है(WHAT IS RAM IN HINDI) और कैसे काम करते है ?
  3. CACHE MEMORY क्या है?(WHAT IS CACHE MEMORY IN HINDI) BEST EXPLANATION

 History of Computer operating systems in Hindi?

  • आज जो operating systems सबसे famous है उसका नाम है Windows। Windows को developed किया था Microsoft, 1981 मे।
  • 1981 मे Microsoft ने MS dos version Windows को बनाया, जो थे CUI mode मे। मतलब character user interface mode मे। इस Operating system मे user को हर काम करने के लिए Command लिखके करना परता था। मतलब उस OS मे आपको अगर कोई फाइल को delete करना है तो आपको command लिख कर ही delete करना परता था । इसलिए इस mode को command-line user interface भी कहा जाता है।
  • Microsoft के आज जो operating systems हम देख रहे है बह GUI mode मे है । मतलब graphical user interface mode मे और अब user को हर काम के लिए Command लिखना नहीं परता है। मतलब हम अगर कोई फाइल को delete करना चाहते है तो, simple उस file के ऊपर right click करके delete button पर click करके आसानिसे delete कर देते है।

Related Notes :-

  1. COMPUTER की इतिहास -HISTORY OF COMPUTER IN HINDI?
  2. INTERNET की पूरी इतिहास – HISTORY OF INTERNET IN HINDI?

Operating System के प्रकार -Types of Operating System in Hindi

दिन प्रतिदिन Technology बदलती जा रही है और इसके साथ सब कुछ बदल रहा है तो वैसे ही Operating System का उपयोग। हर Field में बढ़ते जा रहा है जैसे रेलवे, Research, Satellite, Industry तो जानते है Operating System कितने प्रकार के हैं। चलिए देख लेते है:-

  • Batch operating system.
  • General-purpose operating system.
  • Mobile operating system.
  • Embedded operating system. 
  • Network operating system.
  • Real-time operating system.

आप अगर operating system की इन सभी Types के बारे में जानना चाहते हो तो इस notes को follow करो-

Examples of operating systems

पूरे विश्व में तरह तरह के operating system इस्तेमाल होते है । उनमें से जो operating system ज्यादा use होते है system में, उन OS की list नीच में दिया गया है।

  • Google’s Android OS.
  • Microsoft Windows.
  • Apple iOS.
  • Apple macOS.
  • Linux Operating System.
What is OS in Hindi

Examples of Operating System with Market Share in Hindi?

अब देख लीजिए ऊपर मे दिए गए Operating System की Market Share। मतलब पूरे world मे कितने प्रतिशत लोग आपने system मे कॉनसा Operating System को ज्यादा इस्तेमाल करते है।

Operating System Market Share Worldwide – June 2021

Android41.5%
Windows30.57%
Apple iOS16.09%
Apple OS X6.52%
Unknown3.12%
Linux1.13%

Where is the Operating system stored ?

Normally हमारे Operating system Store रहता है System की Storage device मे। Storage device मतलब Hard disk या SSD मे।

Related Topic :-

  1. BOOTING PROCESS क्या है – WHAT IS BOOTING PROCESS IN HINDI?
  2. BIOS को कैसे UPDATE किया जाता है- HOW TO UPDATE BIOS IN HINDI?
  3. KERNEL क्या है – WHAT IS KERNEL IN HINDI?
  4. FIRMWARE क्या होता है – WHAT IS FIRMWARE IN HINDI?
  5. CHIPSET क्या है (WHAT IS CHIPSET IN HINDI) और SYSTEM मे इसकी IMPORTANCE को जानिए।

CONCLUSION

उम्मीद करता हूँ, आप Operating System क्या है – What is OS in Hindi को read करने के बाद आपका सभी confusion clear हो गेया है और इस note से बोहत कुछ शिखने को मिला है। परन्तु यदि आपको इस पोस्ट में किसी जानकारी का अभाव लगता है या आपके पास इससे सम्बंधित कोई सवाल है. तो कृपया नीचे comment कर हमें जरूर बताये. आपके सुझाव हमारे लिए बहुत मायने रखते है.


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *