Network devices in Hindi- Router, Modem, Switch, Repeater

What is Network Devices in Hindi
Spread the love

आप अगर एक computer networking के student हो और networking को अच्छी तरह से समझना चाहते हो। तो आपको पहले networking मे इस्तेमाल होने बाली devices क्या क्या है और network मे उन devices का Role क्या है, उनके बारे मे जानना परेगा। इस notes (Network devices in Hindi) मे मैं discuss किया हूँ Networking devices के बारे मे। तो चलिए शुरू करते हैं:-

आपको अगर जानना है NETWORK क्या है और कितने प्रकारके होते है ? तो इस note को follow करो।

नेटवर्क डिवाइस क्या है – Network devices in Hindi

आप अगर आपके घर या office मे एक Network को established करना चाहते हो। तो आपको बोहोत सारे Network devices की जरूरत परेगी। और उन सब Network devices क्या क्या है और network मे उन devices का Role क्या है? चलिए एक एक करके देख लेते है-

  1. Hub
  2. Switch
  3. Repeater
  4. Bridge
  5. Modem
  6. Router
  7. NIC card या LAN IC
Network devices in Hindi

Hub क्या है – Hub in Computer network in Hindi

  • computer network मे Hub बहुत सारें कंप्यूटरों और networking device को एक साथ जोड़ने और उन सभी device को आपस मे communicate कराने का काम करता है ।
  • Hub को LAN पर ही इस्तेमाल किया जाता है।
  • Hub के maximum 12 ports होते है। मतलब Hub के जरिए आप 12 कंप्युटर को Connect कर सकते हो।
  • यह device OSI model मे layer 1 (मतलब Physical layer) पर काम करता है।
  • यह device Half duplex मे communication करता है।
  • Hub एक non intelligent device है। मतलब Hub को जो डाटा मिलता है बह डाटा network मे present सबी computer को भेज देते है मतलब broadcast कर देते है। Hub के इस drawback के कारण Hub को network में इस्तेमाल नहीं किया जाता है।
What is Hub in Hindi

आपको और भी आसान भाषा में समझाता हूँ network मे hub क्या problem create करता है, मतलब hub का क्या drawback है। मान लीजिए एक network मे 6 computers लगी हुई है, आप अगर कंप्यूटर 1 से कंप्यूटर 2 में कुछ डेटा भेजना चाहते हो, तो आप जैसे ही कंप्यूटर 1 से डेटा भेजोगे कंप्युटर 2 में तो बह डाटा पहले hub के पास जाएगा । जैसे ही डाटा hum के पास जाएगा hub यह check नहीं करेगा उस डाटाका right destination क्या है, वह क्या करेगा इन डाटा को अन्य सभी कंप्यूटरों मतलब 2,3,4,5,6 पर भेज देगा।

Hub in Hindi

मतलब Hub network मे present सभी computers को broadcast कर देगा। उसके बाद जब सभी कंप्यूटर के पास उस message send हो जाएगा। तब कंप्यूटर 2 इन message को ले लेगा जबकि अन्य कंप्यूटर उस message को discard कर देगा। लेकिन अन्य कंप्यूटर अगर चाहे तो उस message को देख सकते है। अगर network मे Hub लगी हुई है तो आप किसी computer को personal message नहीं भेज सकते। यह hub के सबसे बड़ी drawback है। Hub के 2 types है-

  1. Active Hub
  2. Passive Hub

Switch क्या है – Switch in Computer network in Hindi

Hub के इस drawback के कारण Switch को implement किया गया है। hub की तरह Switch भी बहुत सारें कंप्यूटरों या networking device को एक साथ जोड़ता है और उन सभी device को आपस मे communicate कराता है। किन्तु Switch hub की तरह non intelligent device नहीं है, Switch एक intelligent device है। switch डाटा को सही destination मे भेजता है।

What is Switch in Hindi

मतलब आप अगर कंप्यूटर 1 से कंप्यूटर 2 में कुछ डेटा भेजना चाहते हो तो switch कंप्यूटर 2 को ही डाटा भेजेगा,network मे present बाकी सारे computer को नहीं। switch कोई भी डाटाको पहले receive करता है, उसके बाद उस डाटाको store करता है आपने memory मे और जब डाटा store हो जाता है तब उस डाटा को check करता है उस डाटा मे कोई error है की नहीं,उसके बाद ही डाटाको सही destination मे forward करता है। Switch की इस technic को packet switching कहा जाता है। और एक बात Switch की डाटा transfer करने की speed hub से ज्यादा होती है। यह device OSI model मे layer 2 (मतलब Data Link layer) पर काम करता है। Switch के maximum 48 ports होते है।

Repeater क्या है – Repeater in Computer Network in Hindi

network में repeater महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। Repeater का काम होता है weak signal को उसकी original signal मे boost up करना और Transmission की range को बढ़ाना। मतलब डाटा जब लम्बी दूरी में Travel कर रहा होता है उस डाटा जिस गति से sender side से निकलती है बीच रास्ते में जाकर उस डाटा या signal कि speed weak हो जाती है । इस situation में Repeater का इस्तेमाल किया जाता है। repeater क्या करता है उस weak signal को उसकी original signal में boost up करके destination में send करता है। Signal Weak होने के कारण डाटा corrupts भी हो सकता है।

What is Repeater in Hindi

Bridge क्या है – Bridge in Computer network in Hindi

Bridge का नाम सुनते ही हम सबके मन में एक ही खेयाल आता है बह है दो चिजोको जोड़ना मतलब दो जमीनोको आपस मे जोड़ना । और network में भी Bridge का काम होता है दो या दो से ज्यादा LAN को आपस में जोड़ना। Bridge सिर्फ बही network को जोड़ सकता है जहां पर same protocol चल रहा होता है। मतलब bridge दो या दो से ज्यादा same LAN को जोड़ सकता है।

What is Network Bridge in Hindi

अगर दो अलग-अलग नेटवर्क है तो उस जगह Bridge नहीं इस्तेमाल होगा उस जगह इस्तेमाल होगा Router। Bridge वहाँ पर इस्तेमाल होता है मान लीजिए आपका दो office है और दोनो office के बीच की दूरियाँ 5 km है। और आप अगर उस दो office की network को आपस मे जोड़ना चाहते हो और उस दो network को जोड़ने के लिए आपको Bridge का इस्तेमाल करना परेगा। यह OSI model मे layer 2 (Data Link Layer) पर काम करता है।

Related Notes –
  1. TCP/IP MODEL क्या है – TCP/IP MODEL IN HINDI ?
  2. OSI MODEL क्या है – OSI MODEL IN HINDI?
  3. TOPOLOGY क्या है ( TOPOLOGY IN HINDI) और कितने प्रकार के होते है ?
  4. IP ADDRESS क्या है – WHAT IS IP ADDRESS IN HINDI

Modem क्या है – Modem in Computer network in Hindi

कंप्युटर network मे इस्तेमाल होने बाली device मे से Modem भी एक important device है। कंप्युटर network मे modem का काम होता है signal को modulator और demodulator करना। मतलब digital data को analog और analog data को digital मे convert करना।

आपको और भी आसान भाषा मे समझाता हूँ. आप के computer में जो डाटा है बह digital form में है। आपको अगर इस डाटा को network के जरिए दुसरे computer में भेजना है तो उस डाटा को एक cable के जरिये जाना परेगा (हम सब जानते है cable के अंदर से जो डाटा जाता है बह analog from मे ही जाता है ), इसके लिए हमें digital डाटा को भी analog में Convert करना पड़ेगा। modem ने उस digital data को analog में Convert करता है और उस process को Modulator कहा जाता है ।

What is Modem in Hindi

जब यह Analog डाटा cable के जरिए दूसरे computer में चला जाता है तो उस analog data को फिरसे digital मे convert करना परता है। और modem ने इस analog DATA को digital data में convert करता है । और modem की इस कामको Demodulator कहा जाता है। telephone लाइन में Modem इस्तेमाल होता है। network मे यह ही काम करता है Modem मतलब signal को modulator और demodulator करना।

But आज के समय मे network मे आपको कही भी Modem देखनेको नहीं मिलेगी। because Network मे Modem का जो काम था signal को modulator और demodulator करना बह काम अब router कर रही है। अभी के time मे Modem cum router आ रहा है। मतलब Modem का सारा feature Router मे include कर दिया गया है।

Router क्या है -Router in Computer network in Hindi

कंप्युटर network मे सबसे important component होता है Router। Router एक inter networking device है। यह device OSI model मे layer 3 (मतलब Network layer) पर काम करता है। Router का काम होता है दो या दो से ज्यादा different network को आपस मे जोड़ना और उस network के बीच communication को established करना। Router और एक Important काम करता है बह है डाटा को सही और easiest route बताना मतलब सही रास्ता बताना ताकि डाटा जल्दी destination मे पहुँचें।

मतलब आपको अगर आसान भाषा मे समझाऊँ , मान लीजिए आप Kolkata से Mumbai जाना चाहते हो, Kolkata से Mumbai जाने के लिए आपके पास बोहोत सारे रास्ते या Route है। आप Bus से जा सकते हो, आप Train से जा सकते हो, आप Flight से भी जा सकते हो, और हम सब जानते है आप अगर Flight की मदद से जाते है Mumbai मे बोहोत जल्दी पहुंचेंगे।

What is Router in HIndi

ठीक उसी तरह डाटा जब Network मे एक जगह से दूसरी जगह travel करता है, तब उस डाटाको नहीं पता रहता है किस route को follow करके बह destination मे जाए, मतलब उसके लिए सही और easiest route कॉनसा है। और router उस डाटा को सही और easiest route बताती है destination मे जल्दी जाने के लिए।

Router को WAN मे इस्तेमाल किया जाता है LAN मे नहीं। Router network मे बोहोत fast डाटा transfer करता है। router की data transfer rate रहता है minimum 10 mbps और maximum 100 Gbps । Router के maximum 8 ports होते है।

Related Notes-
  1. INTERNET की पूरी इतिहास – HISTORY OF INTERNET IN HINDI?
  2. VPN क्या है और कैसे काम करता है ? WHAT IS VPN IN HINDI
  3. PROTOCOL क्या है और कितने प्रकारके होते है?

NIC क्या है – NIC in Computer network in Hindi

NIC का full from होता है Network Interface Card। NIC card आपके computer पे connect होने बाली ऐसा hardware device होता है जिसके बिना आप कंप्यूटर मे internet access नहीं कर पाओगी । मतलब इस कार्ड के मदद से हम computer मे internet access कर पाते हैं।

NIC in Hindi

आज के time में NIC card को LAN IC के नाम से जाना जाता हैं। पुराने जमाने मे internet access करने के लिए इस NIC card को अलग से खरीदना परता था। but आज के time मे इस NIC card को खरीदना नहीं परता है because motherboard पर ही LAN IC inbuild रेहता है। computer पर internet access करने मे जो मदद करता है बह है NIC card या LAN IC.

CONCLUSION

उम्मीद करता हूँ, आप Network devices in Hindi को read करने के बाद आपका सभी confusion clear हो गेया है और इस note से बोहत कुछ शिखने को मिला है। परन्तु यदि आपको इस पोस्ट में किसी जानकारी का अभाव लगता है या आपके पास इससे सम्बंधित कोई सवाल है. तो कृपया नीचे comment कर हमें जरूर बताये. आपके सुझाव हमारे लिए बहुत मायने रखते है.


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *