Printer क्या है और उसके प्रकार – What is Printer in Hindi

Printer in Hindi
Spread the love

Computer के एक common peripheral output device है printer। और आज हम जानेंगे इस printer के बारे मे। इस notes से आप printer क्या है (What is Printer in Hindi), Printer के प्रकार, Impact printers क्या है, Non-Impact printers क्या है, Printer के interfaces, आज के समय मे user कौन कौन printer को ज्यादा इस्तेमाल कर रहे है, etc. topic के बारे मे जान सकते हो।

Printer क्या है- What is Printer in Hindi

computer की एक मुख्य Hardware output device है Printer। जो हमे text और image को color या black and white रंगो में print करके देता है। इसलिए Printer को hardcopy device भी कहा जाता है। इस printers को आप computer से connect करके इस्तेमाल कर सकते हो और बिना Computer से connect करके भी printer को इस्तेमाल कर सकते हो।

कोई भी printer की speed मापी जाती है उसकी ppm (pages per minute) और उसकी dpi (dots per inch) से। मतलब उस printer एक minute मे कितना page को print कर रही है और paper की एक inch पर कितना dot आ रही है। एक inch मे जितना dot paper पर परेगी image या text की quality उतना ही बेहतर होगी।

Printer का आविष्कार किसने किया -Who invented the printer in Hindi?

आज के समय मे printer के बहुत सारे types market मे उपलब्द है। जैसे Ink-jet printer, Laser printer, Dot-Matrix Printer, Daisy-wheel printer, etc. इन सारे printers को कोई अकेला आदमी invent (आविष्कार) नहीं किया था। अलग अलग inventor ने अलग अलग printers का आविष्कार किया। कौनसा inventor किन printer को आविष्कार किया बह हम जानेंगे Types of Printer की topic मे।

सबसे पहले जान लेते है, world के सबसे पहला printing device का invent किसने किया? world के सबसे पहला printing device का invent (आविष्कार) किया Charles Babbage ने , सन 1822 मे। यह एक mechanical printing device था। और इस printing device को Charles Babbage Difference Engine के साथ इस्तेमाल करने के लिए बनाया था। और इस mechanical printing device के आविष्कार होने के बाद ही बाकी सारे printers का invent हुया।

Printer के प्रकार-Types of Printer in Hindi

देखिए दोस्तों, कोई भी document को printer किस technique से printing कर रही है उसके लिहाज पर Printer को दो भागों मे बीभक्त किया गेआ है। बह दो types है- Impact printers और Non-Impact printers ।

 Printer in Hindi

Impact printers

Impact का हिन्दी meaning होता है असर करना। और इस types के printers भी असर करके ही document को print करता है। मतलब इस types के printer document को print करने के लिए hammer या key की मदद से ink ribbon को असर या hit करके paper पर print produce करते है। इसलिए इसको Impact printer कहा जाता है। और Impact printer में आ जाते है Dot Matrix Printer, Daisy Wheel Printer, Line Printer etc.

इंपैक्ट प्रिंटर के प्रकार- Types of Impact printers in hindi

  1. Dot Matrix Printer
  2. Daisy Wheel Printer
  3. Line Printer
1. Dot Matrix Printer in Hindi

Dot matrix Printer को first introduce किया था IBM नामक Company ने, 1957 मे। और तभी से इस प्रिंटर का use होना start हुआ और अभी भी इस printer का use हो रहा है। इस printer का use ज्यादातर government office, bank, Railway पर किया जाता है। इस printer image या text को dot की आकार मे paper पर print करती है। मतलब इस printer से निकली हुई print copy आप अगर बारीकी से देखोगे तो उस copy मे हर text या image को dot से बनाया गेआ है या create किया गेआ है। इस printer की speed 50 to 500 characters per second होती है।

Printer in Hindi
2. Daisy Wheel Printer in Hindi

Daisy Wheel Printer को आविष्कार किया था  Dr. Andrew Gabor ने, 1970 मे। इस printer भी Dot matrix Printer की तरह document को print करता है। इस printer मे भी एक head रहता है उस head ink ribbon पर strike करता है या hit करता है और उसके बाद ही कोई भी document print होता है।

daisy Wheel Printer in Hindi
Wheel

Dot Matrix Printer और Daisy Wheel Printer के बीच एक ही फरक है। Dot Matrix Printer की head मे एक needles या pins होती है और इस Daisy Wheel Printer की head मे एक hammer रहती है, और उस hammer मे character की shape होती है। इस printer की speed 10-75 characters per second है। इस Daisy Wheel Printer का use ज्यादातर अदालत मे किया जाते है। जैसे आप image में देख रही हो-

3. Line Printer in Hindi

impact printers के सभी types मे से सबसे fastest printer है line printer। इस printer एक एक character को print नहीं करता है यह printer एक बार मे पूरे एक line को print करता है। इसलिए इसको line printer कहा जाता है। इस printer की speed मापी जाती है LPM मे मतलब Line per Minute मे। इसकी speed 3000 LPM है। मतलब इस Printer एक minute मे 3000 line को print करने की क्षमता रखती है। इस printer का use bank की statements निकालने के लिए , बढ़े बढ़े company का product shipment, produce invoices निकालने के लिए, बढ़े बढ़े book print करने के लिए किया जाता है।

Types of printer in Hindi

Related Notes

  1. OPERATING SYSTEM के प्रकार-TYPES OF OPERATING SYSTEM IN HINDI
  2. COMPUTER की प्रकार -TYPES OF COMPUTER IN HINDI?

Non-impact printers

अब जान लेते है Non-impact printer के बारे मे। इस types के printers paper पे print produce करने के लिए कोई तरह के अब जान लेते है Non-impact printer के बारे मे। इस types के printers paper में print produce करने के लिए कोई तरह के असर या hit नहीं करता है, बल्कि इसके बिना ही print produce करता है। इस Non-impact printer print produce करने के लिए cartridge या toner का इस्तेमाल करते है। उस non Impact printer मे आ जाते है Inkjet Printer, Laser Printer, Thermal Printer, Portable Printer etc.

नॉन-इंपैक्ट प्रिंटर के प्रकार- Types of Non-Impact printers in Hindi

  1. Inkjet Printer
  2. Laser Printer
  3. Thermal Printer,
  4. Portable Printer
1. इंकजेट प्रिंटर क्या है – Inkjet Printer in Hindi

Inkjet Printer का developed हुआ था सन 1970 मे, इस printer को कोई अकेला आदमी या company ने invent (आविष्कार) नहीं किया था। multiple company ने मिलकर इस Inkjet Printer का आविष्कार किया। इस multiple company मे सामील थे Canon, Epson, और Hewlett-Packard (HP)। आज के समय मे इस printer एक famous printer है और इस Inkjet Printer को सभी जगह पर इस्तेमाल किया जाता है । जैसे  homes ,small offices, cyber café, small shop, etc. इस printer से आप color और black & white दोनों ही print copy निकलवा सकते हो। इस printer एक minute मे 5 to 18 pages को print कर सकता है।

इस printer liquids ink का इस्तेमाल करके Document को print करता है। इस Inkjet Printer के अंदर cartridge रहता है और उस cartridge मे 4 color के (cyan, magenta, yellow, and Black) के liquids ink रहता है। जैसे आप image में देख रही हो-

Printer in hindi
2. लेजर प्रिंटर क्या है- Laser Printer in Hindi

inkjet printer की तरह Laser jet Printer भी आज के समय मे बहुत famous है। इस Laser Printer को invent किया था Gary Starkweather ने, 1971 मे। जहां पर large amount मे print करने की जरूरत परती है वहाँ पर इस printer को इस्तेमाल किया जाता है। जैसे corporate, school, company etc. मे।

Printer in Hindi

Inkjet Printer मे हमने देखा liquids ink cartridge के अंदर रहता है but इस printer मे ink रहता है tonar के अंदर। बह ink dry ink होता है। printer पर present Laser light या beam की मदद उस Dry ink को बिगलाया जाता है और paper पर print किया जाता है। यह printer text को print करने के लिए बेहतर है। इस printer एक minute मे 9 to 25 pages को print कर सकता है। इस printer की price ज्यादा होती है Inkjet Printer की मुकाबले। किन्तु इस Laser Printer की printing cost कम होती है Inkjet Printer की मुकाबले।

Related Notes :-

  1. CPU क्या है (WHAT IS CPU IN HINDI) & उसकी जानकारी अब हिन्दी मे
  2. RAM क्या है(WHAT IS RAM IN HINDI) और कैसे काम करते है ?
  3. CACHE MEMORY क्या है?(WHAT IS CACHE MEMORY IN HINDI) BEST EXPLANATION
  4. कंप्युटर की परिभाषा क्या है – DEFINITION OF COMPUTER IN HINDI ?
  5. माउस क्या है- WHAT IS MOUSE IN HINDI? जानिए पूरे जानकारी के साथ
  6. KEYBOARD क्या है – WHAT IS KEYBOARD IN HINDI? जानिए DETAILS मे
3. Thermal Printer in Hindi

हमारा देश जितना digitally की तरफ झुक रहा है इस printer का use उतना ही बढ़ रहा है। इस Thermal printer को ज्यादातर restaurants, retailer shop, shopping mall, etc. जगह मे online payment की receipt copy निकालने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलाबा ATM machine मे , bus, cinema ticket मे इस Pinter का use किया जाता है। basically इन प्रिंटरो को labels, barcode, payment receipt और shipping labels इत्यादि create करने के लिये उपयोग में लिया जाता है।

Printer in Hindi

अब जान लेते है Thermal printer काम कैसे करते है। एक बात आपको जानना जरूरी है इस प्रिंटर कोई भी document को print करने के लिए ink ribbon, toner, या cartridge का उपयोग नही करते है। इस printer document को print करने के लिए इस्तेमाल करते है treated paper का। जिस treated paper पर एक खास chemical की coating होती है।

4. Portable Printer in Hindi

Portable Printer क्या है इसको जानने से पहले आपको जानना परेगा portable device किस छीजकों कहा जाता है । Portable devices बह device होता है जिनको हम आसानिसे एक जगह से दूसरे जगह लेके जा सकते है। जिनते भी सारे printer के types के बारे मे हमने discuss किया उन सभी printers को हम एक जगह से दूसरे जगह लेके नहीं जा सकते थे। but इस printer छोटे कम वजन वाले होने के नातिन इसको हम आसनीसे एक जगह से दूसरे जगह लेके जा सकते है।

Printer in Hindi

इस printer को Wire या Wireless दोनों माध्यम के जरिए connect किया जा सकता है। इस printer laptop, computer, mobile द्वारा यात्रा के दौरान Print निकालने की अनुमति देते है। इनकी printing की गति सामान्य Printer से कम होती है। कुछ प्रिंट डिजिटल कैमरे से तत्काल फोटो निकालने के लिए इस्तेमाल किये जाते है, इसलिए इन्हें Portable Photo Printer कहा जाता है।

Printer के interfaces- Printer interfaces in Hindi

Printers को computer से connect करने के लिए बहुत सारे अलग अलग interface का उपोयोग किया जाता है। जिनमेसे USB, और Wi-Fi सबसे famous interface है। आज सभी जगह पर USB, और Wi-Fi connectivity की मदद से printer को computer से connect किया जाता है। printers को computer से connect करने के लिए और भी बहुत सारे interface है। उन सब interface का list नीच मे दी गई है।

  • Cat 5
  • Firewire
  • MPP-1150
  • Parallel port
  • SCSI
  • Serial port
  • USB
  • Wi-Fi

What is the most commonly used printer?

आज के समय मे दो printers सबसे famous है inkjet printer और LaserJet printer। किन्तु इस दो printer को environment की हिसाब से इस्तेमाल कीये जाते है। मतलब Home, cyber café, small shop जैसी environment में inkjet printer को इस्तेमाल किए जाते हैं। Because इस प्रिंटर की price कम होती है LaserJet printer से। और LaserJet printer को office, school, जैसी environment मे ज्यादा इस्तेमाल की जाती है।

CONCLUSION

उम्मीद करता हूँ, आप Printer क्या है और उसके प्रकार इस notes को पूरा पढ़ने के बाद आपका सभी confusion clear हो गेया है और इस note से बोहत कुछ शिखने को मिला है। परन्तु यदि आपको इस पोस्ट में किसी जानकारी का अभाव लगता है या आपके पास इससे सम्बंधित कोई सवाल है. तो कृपया नीचे comment कर हमें जरूर बताये. आपके सुझाव हमारे लिए बहुत मायने रखते है. और एक बात आपको अगर किसी भी topic पर जानकारी चाहिए,जो अभी तक मैंने cover नहीं की तो आप नीच में comment करके बह topic बता सकते हो। आपका topic clear करने की मैं पूरा कोशिश करूंगा।


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *