UEFI BIOS क्या है और इसके फायदे – What is UEFI BIOS in Hindi

UEFI BIOS in Hindi
Spread the love

आज हम BIOS के एक महत्वपूर्ण types के बारे में जानेंगे और बह types है UEFI BIOS। जो आज के समय में सभी कंप्युटर में इस्तेमाल हो रहा है। तो चलिए फटाफट जान लेते है इस पूरे articles से आप क्या-क्या सीखेंगे। इस articles से आप सीखेंगे – BIOS क्या है, BIOS के प्रकार, UEFI BIOS क्या है (What is UEFI BIOS in Hindi), UEFI BIOS के फायदे, Legacy BIOS और UEFI BIOS के बीच की अंतर क्या है, आप कैसे पता करोगे आपके कंप्युटर की BIOS का Types कौन सा है, और भी बहुत सारे information। तो चलिए शुरू करते है –

UEFI BIOS क्या है इसको जानने से पहले आपको जानना परेगा BIOS क्या है और BIOS के प्रकार क्या है। तो चलिए पहले हम इन चीजों को जान लेते है फिर हम UEFI BIOS के बारे में जानेंगे।

BIOS क्या है -What is BIOS in Hindi ?

कंप्युटर start होते ही जो स्क्रीन आपको पहले दिखाई देती है बह होता है BIOS की screen। अब आप बोलोगे यह BIOS क्या चीज है। देखिए दोस्तों , BIOS एक प्रकार की Programming Software या Programing chip है। जिसमे पूरे Computer

 के main fundamental Setting और Hardware level की सारे setting Store रहता है। और कंप्युटर जब start होता है तब उन सभी fundamental Setting और Hardware setting को follow करके ही start होता है। किन्तु कंप्युटर आपने आप ही इन सब settings को follow up नहीं करते है, BIOS उन्हे follow up कराते है। मतलब BIOS काम है उन सभी settings के मुताबिक कंप्युटर को start करना।

  1. BIOS क्या है (WHAT IS BIOS IN HINDI) और कैसे काम करते है ?

BIOS के प्रकार – Types of BIOS in Hindi

Bios के दो मुख्य types हमे देखने को मिलता है। और बह है –

  1. Legacy BIOS
  2. UEFI BIOS

Legacy BIOS क्या है – What is Legacy BIOS in Hindi

पुराने generation के computer में इस types के BIOS इस्तेमाल होता था। इस BIOS के बहुत सारे Drawback थे , जिसके कारण इस types के bios को आज के समय में किसी भी computer में इस्तेमाल नहीं किया जाता है। इस BIOS के मुख्य Drawback यह था – इस BIOS की software interface में mouse का support

नहीं मिलता था , इसकी software interface CUI mode में था, इस BIOS कंप्युटर को start करने में ज्यादा बक्त लेता था, और इसके एलाबा और भी बहुत सारे drawback थे जिसके कारण इस BIOS को replaced करके UEFI BIOS को लाया गेआ। Legacy Bios की screen कुछ इस तरह के दिखते थे –

BIOS in Hindi

UEFI BIOS क्या है – What is UEFI BIOS in Hindi

Legacy BIOS के बहुत सारे limitation था जिसकी वजह से computer के performance में effect परता था। और उस limitation को पूरी तरह overcome करके market में bios के new types lunched हुए जिसका नाम UEFI है। UEFI का full from है The Unified Extensible Firmware Interface (UEFI)।

और आज के समय में सभी computer मैं इस types के bios इस्तेमाल होता है। इस types के BIOS से सबसे बड़ा benefit यह मिलता है की – इस BIOS की software interface में mouse का support मिलता है, इस BIOS कंप्युटर को Boot करने में कम time लेता है, इसमे ज्यादा hardware device support करता है, etc. जैसी और भी बहुत सारे benefit है जो हम नीच में जानेंगे।

UEFI BIOS in Hindi
UEFI Bios की Screen कुछ इस तरह के दिखते है
Related Topic :-

UEFI BIOS के फायदे – Advantages of UEFI BIOS in Hindi

  • Boot mode: इस types के bios 32 bit और 64 bits दोनों environment बाली Operating system और software को support करता है।
  • Drives: UEFI Forum में यह बात साफ लिखा है की, इस UEFI bios 500 GB बाली Boot storage device से लेकर 9.4 zettabytes बाली Boot storage device तक support करने के लिए capable है।
  • Graphical user interface (GUI): इस bios की सबसे बड़ी advantage यह है के इस bios GUI mode में है। GUI mode में होने होने के नाते इसको इस्तेमाल करना काफी easy है। आपको सभी options easily मिल जाएगा।
  • Multiple OS support: इस bios सभी operating systems systems को support करता है। और एक बात इस bios में dual operating system features available है। मतलब इस BIOS में आप एकसाथ दो Operating systems इस्तेमाल कर सकते हो।
  • Programming: इस types के BIOS बहुत ही user friendly है। इस UEFI BIOS में आप easily किसी भी options को remove, modify कर सकते हो। साथ ही साथ इसको update करना भी काफी easy है।
  • Security: इस bios में एक बहुत ही amazing features को add किया गया है बह है secure boot। इस features क्या करता है कंप्युटर system को hacker से protect रखता है। मतलब कोई hacker आसानी से आपके system को hack नही कर सकता है। इस features से और एक benefit मिलता है कि आपके सिस्टम में अगर internet connection available है तो आपके system को remotely access किया जा सकता है।

Legacy BIOS और UEFI BIOS के बीच की अंतर क्या है – Difference between Legacy BIOS & UEFI BIOS in Hindi

UEFI BIOS in Hindi
UEFI LEGACY BOOT MODE
इस types के BIOS बहुत ही user friendly है। user आसानी से इसको इस्तेमाल कर सकता है। एर दूसरी ओर इस BIOS बहुत ही complex है। user आसानी से इसको इस्तेमाल नहीं कर पता है।
UEFI BIOS के programming C language में बनी हुई है। UEFI BIOS के programming assembly language में बनी हुई है।
इस BIOS GPT और MBR दोनों partitioning scheme इस्तेमाल करने के लिए capable होता है। इस BIOS सिर्फ MBR partitioning scheme इस्तेमाल करने के लिए capable होता है।
UEFI BIOS कंप्युटर सिस्टम को faster boot time provides करता है। मतलब इस BIOS कंप्युटर को start करने में कम बक्त लेता है। इस BIOS कंप्युटर को start करने में ज्यादा बक्त लेता था UEFI BIOS के मुकाबले।
इस UEFI bios 500 GB बाली Boot storage device से लेकर 9.4 zettabytes बाली Boot storage device तक support करने के लिए capable है।इस Legacy bios 250 GB बाली Boot storage device से लेकर सिर्फ 2 TB बाली Boot storage device तक support करने के लिए capable है।
इस BIOS की software interface में keyboard और mouse दोनों का support ही मिलता है। इस BIOS की software interface सिर्फ keyboard support मिलता है, mouse का support नहीं मिलता है।
इस BIOS में दो अलग अलग Operating system को इस्तेमाल किया जा सकता है। इस BIOS में सिर्फ Operating system को इस्तेमाल किया जा सकता है।
इसमे secure boot जैसी feature available है। और इसमें यह feature नहीं देखने को मिलता है।
इस BIOS को update करना भी काफी easy है। दूसरी तरफ इस BIOS को update करना बहुत ही मुस्किल है

Related Topic :-

  1. CPU क्या है और उसकी हर एक जानकारी अब हिन्दी मे।
  2. COMPUTER PARTS IN HINDI- हर एक PARTS की DETAILS जानकारी
  3. HARD DISK क्या है (HARD DISK IN HINDI) जानिए पूरी DETAILS मे
  4. CHIPSET क्या है (WHAT IS CHIPSET IN HINDI) और SYSTEM मे इसकी IMPORTANCE को जानिए।
  5. माउस क्या है-WHAT IS MOUSE IN HINDI? जानिए पूरी जानकारी के साथ
  6. KEYBOARD क्या है -WHAT IS KEYBOARD IN HINDI? जानिए DETAILS मे

आप कैसे पता करोगे आपके कंप्युटर की BIOS का Types कौन सा है ?

आप अगर जानना चाहते हो आपके कंप्युटर की BIOS का Types कौन सा है, तो आप नीच में दी गई steps को follow करो।

  1. आपको एक साथ  Windows Key+R को press करना होगा, उसके बाद आपके सामने एक dialog box open होगा।
  2. उस dialog box में आपको type करना होगा – msinfo32
    , फिर enter press की जिए।
  3. आप जैसे ही enter press करोगे आपके सामने system information की एक list आ जाएगी।
  4. उस system information की list से आप पता कर सकते हो आपका BIOS mode या types क्या है।
UEFI BIOS in Hindi

CONCLUSION

उम्मीद करता हूँ, आप UEFI BIOS क्या है और इसके फायदे – What is UEFI BIOS in Hindi? इस notes को पूरा पढ़ने के बाद आपका सभी confusion clear हो गेया है और इस note से बोहत कुछ शिखने को मिला है। परन्तु यदि आपको इस पोस्ट में किसी जानकारी का अभाव लगता है या आपके पास इससे सम्बंधित कोई सवाल है. तो कृपया नीचे comment कर हमें जरूर बताये. आपके सुझाव हमारे लिए बहुत मायने रखते है. और एक बात आपको अगर किसी भी topic पर जानकारी चाहिए,जो अभी तक मैंने cover नहीं की तो आप नीच में comment करके बह topic बता सकते हो। आपका topic clear करने की मैं पूरा कोशिश करूंगा।


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.