Unix क्या है और इसकी Features, इतिहास को जानिए – What is Unix in Hindi?

What is UNIX in Hindi
Spread the love

आज हम जानेंगे UNIX operating system के बारे में. जिस operating system Windows, Linux OS, MAC OS से पहले market में introduced हुआ था। यह market में आने के बाद भी हम सब इस operating system के बारे में ज्यादा कुछ जानते ही नहीं है। इसलिए आज हम इस operating system की topic को choose किया है। तो चलिए फटाफट इसकी बिषयसूची को जान लेते है। इसकी बिषयसूची है – Unix क्या है (What is Unix in Hindi), UNIX के इतिहास, UNIX के Architecture, UNIX के विशेषताएँ, UNIX Shell के प्रकार, Linux और UNIX के बीच की अंतर etc.

What is Unix in Hindi

UNIX क्या है – What is UNIX in Hindi?

Windows, Linux की तरह UNIX भी एक Operating system है। UNIX एक portable, multitasking, multiuser, time-sharing operating system है। जिसको developed किया Ken Thompson, Dennis Ritchie नामक दो scientists ने, सन 1968 में। और इसको खसतर पर users की flexibility और adaptability को ध्यान में रखते हुए design की गई है।

UNIX के इतिहास – History of UNIX in Hindi

सायद आपको UNIX क्या है उसको समझ में आ गेया, अब हम UNIX की इतिहास के बारे में जानेंगे।

देखिए दोस्तों, सन 1964 में जब operating system का अविष्कार नहीं हुआ था तब Bell laboratory (New Jersey) के कुछ scientist एक ऐसा operating system बनाना चाहते थे जिसमे multiuser एकसाथ काम कर सके। और इसी भावना को कमियाब बनाने के लिए उन सब scientist ने एक project start किया। किन्तु चार पांच साल इस project के ऊपर काम करने के बाद इस project को बंद कर दिया। क्योंकि सब scientist ने सोचा के इस project को अंजाम तक ले जाना Possible नही होगा।

यहां पर कहानी खत्म नहीं हो जाता है। इसके बाद उसी laboratory के दो scientist जिसका नाम ken Thompson और Dennis Ritchie ने इस project को फिरसे Start किया। और कुछ साल इस project के ऊपर काम करने के बाद इस दो scientist ने उस project को अंजाम तक ले गया। और दोनो ने एक multiuser operating system तैयार किया । जिसका नाम UNICS रखा गया और बाद में बह ही नाम UNIX बन गया। ओर इस ऑपरेटिंग सिस्टम बिलकुल free था। मतलब इनका जो source code था बह एकदम free of cost था। किसी programmer अगर चाहे तो उस code को use करके अपना ऑपरेटिंग सिस्टम बना सकता था।

और इसी source code का फायदा उठाया बहुत सारे famous companies। UNIX के codes को इस्तेमाल करके IBM ने अपना os बनाया AIX के नाम पे , apple ने MAC OS, Sun system ने sun solaris, और HP ने UX os को बनाया। और बहुत सारे साइंटिस्ट का मानना है Linux भी इसी OS की source code से बनी हुई है। किन्तु यह बात कई हद तक गलत है।

पूरी इतिहास जानने के लिए इस Article को follow करो – लिनक्स क्या है – WHAT IS LINUX IN HINDI

आप अगर operating system की इन सभी Types के बारे में जानना चाहते हो तो इस notes को follow करो-

UNIX के Architecture – Architecture of UNIX in Hindi

अब हम जानेंगे UNIX के Architecture के बारे में, मतलब UNIX के internal structure के बारे में। तो चलिए शुरू करते है –

 Linux in Hindi
  1. Applications :- Users जब भी Operating system को command या task देते है, बह task हर बार Applications 
    के through ही देते है। और Applications का काम होता है Users की task को receive करके shell तक पहुंचाना।
  2. Shell :- इसके बाद आता है shell। इसका काम होता है user के दी गई command को kernel तक पहुंचाना।
  3. Kernel :- Linux operating system की core part को kernel कहा जाता है। आपको अगर और भी आसान भाषा में समझाऊं kernel क्या है तो आप आप ऐसे समझिए Linux operating system जिस बुनियादी codes से बनि है उस code को kernel कहा जाता है। और इस kernel का काम होता है system में present hardware devices के साथ communicate करना।
  4. Hardware :- हमारे computer या laptop में जितनी भी hardware device’s होते है जैसे cpu, ram, hdd, monitor, etc. उनको hardware part कहा जाता है। और kernel के instruction के मुताबिक इन सब hardware device’s ही user की command या task को complete करके user तक पहुँचाती है।

UNIX के विशेषताएँ – Features of UNIX Operating System in Hindi

Feature of UNIX in Hindi
  1. Multiuser System :- UNIX एक Multiuser operating system है, इस OS को बहुत सारे users एकसाथ इस्तेमाल कर सकता है। UNIX OS system में मोजूद peripheral और drives recourses को एक time में group of users को share करने के लिए capable होते है।
  2. Multitask System :- UNIX OS के इस feature भी UNIX को खास बनाने में मदद करता है। इस feature user को एक multiple program एकसाथ access या इस्तेमाल करने की अनुमति देता है। मतलब ईस OS में user एकसाथ browsing भी कर सकता है, file को Editing भी कर साथ है, किसी भी file या folder को एक कंप्युटर से दूसरे कंप्युटर में share भी कर सकता है etc.
  3. Portability :- इस feature UNIX OS को किसी machines और किसी भी platforms में easily transfer और setup करने में मदद करता है। इस transformation इसलिए possible हो पा रहा है क्यूंकी ईस OS की ज्यादा portion C language और छोटा portion Assembly language में लिखा गेआ है।
  4. File Security and Protection :- UNIX का दूसरा बड़ा advantage यह है UNIX का security बहुत तगड़ा है। मतलब UNIX  other operating system के तुलना में बहुत secure है। UNIX operating system को इस्तेमाल करके आप सभी virus या malware attack से बच सकते हो। और सबसे बड़ी बात यह है इसमें कोई anti virus software install भी नहीं करना पड़ता है।
  5. Command Structure :- इसके command Structure बहुत ही easy and simple है। एक normal user को भी आसनिसे समझमें आ जाएगा।
  6. Open Source :- UNIX का सबसे बड़ा advantage यह है के UNIX एक open source operating system है। मतलब एक operating system जिस बुनियादी codes से बनती है, बह codes internet में एकदम free है। आप अगर एक अच्छा खासा programmer हो तो आप इस code को use करके आपना खुद का एक operating system बना सकते हो।
  7. UNIX Tools and Utilities :- UNIX system users को various types के tool और Utilities provides करता है। such as UNIX grep, sed and awk, etc. Some of the general-purpose tools are compilers, interpreters, network applications, etc.
  8. Machine-independence
    : इस OS को सभी Machine में run किया जा सकता है। like – micros, mins and mainframes।

UNIX Shell के प्रकार – Types of Shell in UNIX System in Hindi

UNIX का shell तिन प्रकार के होते है। तथा – Bourne Shell, C Shell, Korn Shell

  • Bourne Shell: इस Shell को simply कहा जाता है Shell. और इस shell UNIX OS में सबसे first में रहता है. UNIX OS इस shell का दबदबा सबसे ज्यादा रहता है। मतलब UNIX OS में इस shell काम सबसे ज्यादा रहता है।
  • C Shell: इस C shell भी एक popular shell है जो इस OS में पाई जाती है। और इस C shell को developed किया था University of California के कुछ scientists ने।
  • Korn Shell: इस Korn shell को create किया था David Korn ने। Bourne Shell’s में user ठीक तरह से OS के साथ interaction नहीं कर पा रहा था इसलिए इस shell को developed किया गेआ। और इस shell C shell’s के कुछ shortcomings को भी overcome करता है।
Related Notes –

Linux और UNIX के बीच की अंतर – Difference between Linux and UNIX in Hindi

Unix in Hindi
S.NOLinuxUNIX
Operating systemLinux just एक kernel है.और दूसरी तरफ UNIX के अंदर Operating system एक complete package रहता है।
CostLinux एक free of cost Operating System है।यह भी एक free of cost ऑपरेटिंग सिस्टम है, किन्तु इसको user केवल कॉपीराइटर ही कर सकते हैं।
File system supportलिनक्स OS में बहुत file system support करता है, UNIX के तुलना में।UNIX OS में भी बहुत file system support करता है, किन्तु Linux के तुलना में कम करता है।
Securityयह users को higher security provides करता है. Linux 60 से 100 viruses को listed कर चुकी है.और दूसरी तरफ UNIX users को और भी ज्यादा security provides करता है. UNIX 85 से 120 viruses को listed कर चुकी है.
CodingUNIX की code को clone करके Linux बनी है। किन्तु UNIX के एलाबा Linux में भी बहुत सारे Coding language का इस्तेमाल की गई है।Unix में completely different coding का इस्तेमाल की गई है। इसमे AT&T Labs की Coding को इस्तेमाल की गई है।
Interfaceइसकी default interface है BASH (Bourne Again SHell).और दूसरी तरफ इसकी interface है Bourne shell। किन्तु इसमे GUI interface support करता है।
Development
Linux को developed किया है Linux community of developers Linus Torvaldsऔर दूसरी ऊर UNIX को developed किया है AT&T Bell labs के scientist ken Thompson और Dennis Ritchie ने।
Examples
Ubuntu, Redhat, Fedora, etc
IBM AIX, HP-UX and Sun Solaris
Usersइसका इस्तेमाल सब जगह पर होता है। जैसे – PC, smartphones, tablets to mainframes and supercomputers। किन्तु इसका इस्तेमाल सिर्फ इन्ही जगह पर किया जाता है। जैसे – servers, workstations and PCs

CONCLUSION

उम्मीद करता हूँ, आप Unix क्या है और इसकी Features, इतिहास को जानिए ? इस notes को पूरा पढ़ने के बाद आपका सभी confusion clear हो गेया है और इस note से बोहत कुछ शिखने को मिला है। परन्तु यदि आपको इस पोस्ट में किसी जानकारी का अभाव लगता है या आपके पास इससे सम्बंधित कोई सवाल है. तो कृपया नीचे comment कर हमें जरूर बताये. आपके सुझाव हमारे लिए बहुत मायने रखते है. और एक बात आपको अगर किसी भी topic पर जानकारी चाहिए,जो अभी तक मैंने cover नहीं की तो आप नीच में comment करके बह topic बता सकते हो। आपका topic clear करने की मैं पूरा कोशिश करूंगा।


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!